आईएसआईएस की मदद करने की कोशिश करते हुए अमेरिका में एक पाकिस्तानी गिरफ्तार

आईएसआईएस की मदद करने की कोशिश करते हुए अमेरिका में एक पाकिस्तानी गिरफ्तार
ये सभी लोग बिना पास या फिर गैर जरूरी कामों के चलते घरों से निकले थे जिन्हें पुलिस ने पकड़ लिया. (सांकेतिक तस्वीर)

मसूद पाकिस्तान का एक लाइसेंसधारी चिकित्सक है और वह एच1 बी वीजा के तहत मिनीसोटा में एक चिकित्सकीय क्लीनिक के लिए अनुसंधान समन्वयक के तौर पर भी काम कर चुका है.

  • Share this:
वाशिंगटन. आईएसआईएस की मदद करने की कथित कोशिश करने और अमेरिका (America) में आतंकवादी हमले करने की इच्छा व्यक्त करने के मामले में एक पाकिस्तानी चिकित्सक को गिरफ्तार किया गया है. मिनेसोटा (Minnesota) जिला अटॉर्नी एरिका मैक्डोनल्ड और राष्ट्रीय सुरक्षा के सहायक अटॉर्नी जनरल जॉन डेमर्स ने कहा कि मुहम्मद मसूद (28) ने आईएसआईएस (ISIS) के प्रति वफादारी का संकल्प लेने समेत जनवरी और मार्च के महीने के बीच कई बयान दिए और आतंकवादी समूह के लिए लड़ने की खातिर सीरिया जाने की इच्छा जताई.

उन्होंने कहा कि 'मसूद ने अमेरिका में अकेले हमलावर द्वारा आतंकवादी हमले करने की भी मंशा जताई. उसे मिनियापोलिस-सेंट पॉल इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किया गया और मिनियापोलिया की एक अदालत ने उसे हिरासत में लेने के लिए 24 मार्च से शुरू होने वाली आधिकारिक सुनवाई तक हिरासत में रखे जाने का आदेश दिया है.'

मसूद पाकिस्तान का एक लाइसेंसधारी चिकित्सक है और वह एच1 बी वीजा (H-1B visa) के तहत मिनीसोटा में एक चिकित्सकीय क्लीनिक के लिए अनुसंधान समन्वयक के तौर पर भी काम कर चुका है. शिकायत के मुताबिक मसूद ने जॉर्डन जाने के लिए शिकागो से विमान का टिकट लिया था जहां से वह सीरिया जाने वाला था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण जॉर्डन ने अपनी सीमाएं बंद कर दी थीं. इस वजह से उसे अपनी योजना बदलनी पड़ी.



शिकायत के मुताबिक इसके बाद उसने मिनियापोलिस से लॉस एंजिलिस जाने की योजना बनाई, जहां वह एक ऐसे व्यक्ति से मिलने वाला था, जो एक कार्गो जहाज के जरिये उसे सीरिया ले जाने में मदद करने वाला था.
ये भी पढ़ें - बीवी से झूठ बोलकर गर्लफ्रेंड के साथ गया इटली, लौटते हुए हो गया कोरोना पॉजिटिव

                 डच पीएम को क्यों कहना पड़ा- उनके पास है 10 सालों के लिए टॉयलेट पेपर

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज