Home /News /world /

चीन में एक बेटे का सरकार से सवाल, कहा- पिता की मौत के लिए वुहान जिम्मेदार

चीन में एक बेटे का सरकार से सवाल, कहा- पिता की मौत के लिए वुहान जिम्मेदार

चीन में पहली बार एक शख्स ने कोरोना वायरस को लेकर सरकार से सवाल पूछने कि हिम्मत दिखाई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

चीन में पहली बार एक शख्स ने कोरोना वायरस को लेकर सरकार से सवाल पूछने कि हिम्मत दिखाई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पहली बार चीन (China) के एक शख्स ने कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर अपनी ही सरकार से सवाल करने की हिम्मत दिखाई है.

    बीजिंग: चीन (China) में पहली बार किसी शख्स ने सरकार से सवाल पूछने की हिम्मत दिखाई है. कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर पहली बार चीन के एक शख्स ने वुहान (Wuhan) के प्रशासन पर अंगुली उठाई है. कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से अपने पिता को खो चुके एक बेटे ने अपने पिता की मौत के लिए वुहान प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है. झांग हेई नाम का ये शख्स अपने पिता की अंतिम यात्रा तक में शामिल नहीं हो पाया था.

    झांग की तरह चीन में ऐसे हजारों लोग हैं, जिन्होंने कोरोना के संक्रमण में अपनों को खोया है. उनका दर्द कम नहीं है. लेकिन चीन के ताकतवर सत्ता के सामने वो मुंह नहीं खोल सकते. पहली बार झांग हेई का गुस्सा अपने ही शहर के प्रशासन पर फूटा है. उसने अपने पिता की मौत के लिए वुहान के प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है.

    झांग का आरोप वुहान प्रशासन कोरोना के मामले को ठीक से हैंडल नहीं कर पाई
    झांग का कहना है कि वुहान प्रशासन कोरोना के संक्रमण के मामले को ठीक तरीके से हैंडल नहीं कर पाई. झांग हेई के 76 साल के पिता झांग लिफा की कोरोना के संक्रमण की वजह से मौत हो गई थी. वुहान के एक हॉस्पिटल में उसके पिता ने 1 फरवरी को अंतिम सांस ली. वुहान में कोरोना का संक्रमण के चलते कुल 3,868 लोग मारे गए हैं.

    वुहान में ही सबसे पहले फ्लू की लक्षण वाले कोरोना के संक्रमण के मामले सामने आए. पिछले साल दिसंबर में संक्रमण का पहला मामला आने के बाद ये पूरी दुनिया में तेजी से फैला.

    अब शेन्झेन के अपने घर में बैठा झांग हेई अपने पिता की मौत का जवाब मांग रहा है. उसने वुहान के स्थायीन प्रशासन को अपने पिता की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया है.

    वुहान जिम्मेदार लेकिन केंद्र सरकार को दी क्लीन चिट
    अल जजीरा से बात करते हुए झांग हेई ने कहा है कि मैं वुहान की सरकार पर झूठ बोलने और मामले को दबाने-छिपाने का आरोप लगाता हूं. लेकिन मैं अपने देश की केंद्र की सरकार का समर्थन करता हूं. केंद्र की सरकार ने दो बार अपने अधिकारियों की टीम वुहान भेजी. लेकिन वुहान के अधिकारियों ने जांच करने आई टीम से झूठ बोला.

    झांग हेई का कहना है कि जैसे ही केंद्र सरकार को महामारी के खतरनाक होने का अंदाजा हुआ, उसने फौरन कार्रवाई की और पारदर्शी तरीके से काम करके महामारी को फैलने से रोकने के लिए अच्छे कदम उठाए.

    वुहान में करीब 1 करोड़ 10 लाख लोगों को उनके घरों में कैद कर दिया गया. 23 जनवरी को वुहान में लॉकडाउन लगा. उसके बाद सख्ती से इसका पालन करवाया गया. केंद्र सरकार ने पूरे शहर को सील कर दिया.

    ये भी पढ़ें:

    लॉकडाउन से इस देश की हालत हुई खराब, लोगों ने लूटने शुरू कर दिए बैंक
    कोरोना: हाथों में दम तोड़ रहे लोग, मुर्दाघर लाशों से भरे, बाथरूम में लगे शवों के ढेर
    दुनिया में कोरोना Live: बिना मास्क लगाए कोरोना लेबोरेट्री में नज़र आए US के उपराष्ट्रपति, हुए ट्रोल

    Tags: China, Coronavirus, COVID 19

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर