लाइव टीवी

अफगानिस्तान में हुए हमले की भारत की कड़ी निंदा, कहा- आतंकवाद के खिलाफ हों एकजुट

भाषा
Updated: February 12, 2020, 4:59 AM IST
अफगानिस्तान में हुए हमले की भारत की कड़ी निंदा, कहा- आतंकवाद के खिलाफ हों एकजुट
भारत ने अफगानिस्तान में हुए हमले की निंदा की और आतंकवाद के खिलाफ विश्व समुदाय से एकजुट होने का आह्वान किया (फाइल फोटो)

भारत (India) ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आतंकवाद (Terrorism) के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होना चाहिए और आतंकवाद फैलाने वाले एवं प्रायोजित करने वालों की जवाबदेही तय की जानी चाहिए.

  • Share this:
नई दिल्ली. अफगानिस्तान (Afghanistan) की राजधानी काबुल में मंगलवार को हुए आत्मघाती हमले की कड़ी निंदा करते हुए भारत ने विश्व समुदाय से आतंकवाद (Terrorism) के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया है. भारत ने कहा कि आतंकवाद फैलाने वाले और प्रायोजित करने वालों की जवाबदेही तय की जानी चाहिए.

उल्लेखनीय है कि काबुल स्थित सैन्य अकादमी को निशाना बनाकर मंगलवार तड़के किए गए आत्मघाती हमले में कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई. गत कई महीनों में काबुल में किया गया यह पहला बड़ा हमला है.

भारत ने की संवेदना व्यक्त
विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करके कहा, ‘‘भारत कड़े शब्दों में इस घृणित हमले की निंदा करता जिसमें मंगलवार सुबह काबुल स्थित मार्शल फहीम राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय के बाहर कई अफगान नागरिक हताहता हुए.’ मंत्रालय ने कहा, ‘‘हम हमले में मारे गए लोगों के परिजनों, घायलों और अफगानिस्तान की सरकार एवं जनता के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करते हैं.’

बयान में कहा गया है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होना चाहिए और आतंकवाद फैलाने वाले एवं प्रायोजित करने वालों की जवाबदेही तय की जानी चाहिए.

पांच लोगों की मौत
उल्लेखनीय है कि काबुल में तीन महीने से अपेक्षाकृत शांति के बाद मंगलवार सुबह स्थानीय समायानुसार सुबह सात बजे आत्मघाती हमलावर ने सैन्य अकादमी को निशाना बनाते हुए खुद को विस्फोट करके उड़ा लिया. अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक हमले में पांच लोगों की मौत हुई है जबकि कम से कम छह अन्य घायल हुए हैं. वहीं अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय ने मृतकों की संख्या छह बतायी जिसमें चार सैन्य कर्मी हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अफ़ग़ानिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 4:43 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर