अफगानिस्तान की पहली महिला फिल्म डायरेक्टर को बदमाशों ने गोलियों से भूना

अफगानिस्तान की पहली महिला फिल्म डायरेक्टर को बदमाशों ने गोलियों से भूना
अफगानिस्तान की पहली महिला फिल्म डायरेक्टर सबा सहर को अज्ञात बंदूकधारियों ने चार गोलियां मारी.

अफगानिस्तान की पहली फिल्म डायरेक्टर (Afghanistan’s first female film director) सबा सहर (Saba Sahar) को अज्ञात बंदूकधारी बदमाशों (Unidentified Gunmen) ने सबा को चार गोली मार दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 27, 2020, 3:49 PM IST
  • Share this:
काबुल. अफगानिस्तान की पहली फिल्म डायरेक्टर (Afghanistan’s first female film director) सबा सहर (Saba Sahar) को अज्ञात बंदूकधारी बदमाशों (Unidentified Gunmen) ने सबा को चार गोली मार दी. अच्छी खबर यह है कि सबा अब जिंदगी और मौत के खतरों से बाहर आ गई हैं. सबा एक प्रमुख महिला अफगान फिल्म निर्देशक और एक्ट्रेस है. वह अफगानिस्तान पुलिस में एक सीनियर अधिकारी हैं. सबा सहर अपने पति के साथ बुधवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में कार ड्राइव करके कहीं जा रही थीं.

सबा तालिबानी संगठन की मुखर आलोचक हैं

सबा 44 वर्ष की हैं और वह अफगानिस्तान की पहली महिला निर्देशक हैं. सबा ने कई डॉक्यूमेंटरी और फिल्मों का निर्देशन किया है. सबा तालिबानी संगठन की गतिविधियों की मुखर आलोचक रहीं हैं. वह सामाजिक और राजनीतिक संस्थाओं में रूढ़िवादियों की प्रमुख भूमिका की भी आलोचक रही हैं.



तीन बंदूकधारियों ने किया उनपर हमला
बुधवार को उनकी गाड़ी पर तीन बंदूक​धारियों ने हमला कर दिया और गोलियां चलानी शुरू कर दी. घटना के समय उनके साथ दो बॉडीगार्ड मौजूद था. सबा का एक बच्चा और उनका ड्राइवर भी उनके साथ मौजूद था. उनके अलावा किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है.

20 घंटे कोमा में रहने के बाद अब खतरे से बाहर

सबा के पति इमाल जाकी ने कहा कि वह पिछले 20 घंटों से कोमा में हैं. उन्हें पेट में चार गोली लगी है. हालांकि अब वह खतरे से बाहर हैं. सबा ने पुलिस विभाग में 10 साल से ज्यादा अपनी सेवाएं दी हैं और हाल ही में उन्हें विशेष पुलिस बल में जेंडर से जुड़े मामलों को देखने के लिए उप प्रमुख बनाया गया है. पुलिस विभाग के एक प्रवक्ता के अनुसार बंदूकधारी घटना को अंजाम देकर फरार हो गया. इस घटना की पड़ताल पुलिस अधिकारी कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें: अलास्का के अटॉर्नी जनरल को जूनियर को किसिंग वाली इमोजी भेजना पड़ा बहुत महंगा

चीन से तनाव के चलते अलीबाबा कंपनी ने भारत में निवेश से किया मना 

पाकिस्तान में बाढ़ ने मचाई तबाही, 100 मरे और हजारों हुए बेघर, देंखे VIDEO

इस महीने की शुरूआत में अज्ञात बंदूकधारियों ने एक दूसरी प्रसिद्ध अफगानी महिला फावजिया कूफी को गोली मार दी थी. फावजिया महिला अधिकारों की वकालत करती थीं और वह तालिबान के साथ बातचीत वाली समिति की सदस्या भी थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज