अब ब्राजील के मंत्री ने भी कहा फ्रांस की फर्स्ट लेडी 'बदसूरत' हैं

News18Hindi
Updated: September 6, 2019, 12:54 PM IST
अब ब्राजील के मंत्री ने भी कहा फ्रांस की फर्स्ट लेडी 'बदसूरत' हैं
ब्रिगेट मैक्रॉन

पिछले महीने ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro) के एक समर्थक ने फ्रांस के राष्ट्रपति की पत्नी ब्रिगेट मैक्रॉन का फेसबुक पर मज़ाक उड़ाया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 6, 2019, 12:54 PM IST
  • Share this:
रियो डी जिनेरियो. ब्राजील (Brazil) के एक मंत्री ने कहा है कि फ्रांस की फर्स्ट लेडी यानी राष्ट्रपति की पत्नी ब्रिगेट मैक्रॉन (Brigitte Macron) बदसूरत है. इससे पहले ब्राज़ील के राष्ट्रपति ने भी उन्हें बदसूरत कहा था. ब्राजील के इकॉनमी मंत्री पॉलो ग्यूडेस ने कहा कि राष्ट्रपति बोल्सोनारो ने जो कुछ भी कहा वो उनकी बातों से इत्तेफाक रखते हैं. उन्होंने कहा, ''राष्ट्रपति ने सही कहा. वो महिला बिल्कुल बदसूरत है.''

इसके कुछ देर बाद ग्वेदेस के एक सहयोगी ने एक बयान में कहा कि मंत्री ने ‘‘सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान फ्रांस की प्रथम महिला का जिक्र करते हुए आज जो मजाक किया, वो उसके लिए माफी मांगते हैं.’’

राष्ट्रपति बोल्सोनारो की अभद्र टिप्पणी
बता दें कि पिछले महीने ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो के एक समर्थक ने फ्रांस के राष्ट्रपति की पत्नी ब्रिगेट मैक्रॉन का फेसबुक पर मज़ाक उड़ाया था. उन्होंने ब्राजील के राष्ट्रपति की पत्नी और ब्रिगेट मैक्रॉन के फोटो शेयर की थी. फोटो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा था, ''अब समझ में आया कि आखिर क्यों बोल्सोनारो को मैक्रॉन परेशान कर रहे हैं.'' इस पोस्ट पर बोल्सोनारो ने लिखा, ''उनका अपमान मत कीजिए''. 65 साल की ब्रिगेट ब्राजील के राष्ट्रपति की पत्नी मिशल बोल्सोनारो से 28 साल बड़ी हैं.

ब्रिगेट मैक्रॉन


मैक्रॉन हुए नाराज़
बोल्सोनारो की इस टिप्पणी पर इमैनुएल मैक्रॉन ने आपत्ति जताई थी. उन्होंने कहा था, ''ब्राजील के राष्ट्रपति ने मेरी पत्नी के बारे में काफी खराब चीज कही. मैं ब्राजील के लोगों का काफी सम्मान करता हूं. उम्मीद करता हूं कि जल्दी ही उन्हें एक ऐसा राष्ट्रपति मिलेगा जो वहां काम करेंगे.''
Loading...

अमेजन की आग को लेकर हंगामा
बता दें कि दुनिया के सबसे बड़े ‘वर्षावन’ अमेजन में लगी आग से निपटने को लेकर ब्राजील और फ्रांस के बीच हालिया सप्ताह में टकराव हो गया था. कई यूरोपीय देशों का कहना है कि अमेजन की जंगलों में आग बुझाने के लिए ब्राजील की सरकार की ओर से पर्याप्त कदम नहीं उठाए जा रहे हैं. दूसरी तरफ ब्राजील के राष्ट्रपति ने आग का जिम्मेदार एक एनजीओ को बताया. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार में एनजीओ की फंडिंग रोक दी गई, जिसके कारण एनजीओ ने ही जंगलों में आग लगाई है.

ये भी पढ़ें:

लोगों को खूब भा रहा ट्रैफिक रूल से बचने का यह उपाय- Video वायरल

PNB में मर्जर होने वाले OBC और युनाइटेड बैंक ग्राहकों के लिए जरूरी है ये 6 काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 11:01 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...