होम /न्यूज /दुनिया /महारानी की मौत के बाद बदलेगी UK की करेंसी, राष्ट्रगान और ब्रिटिश पासपोर्ट में भी होगा बदलाव, जानें क्यों

महारानी की मौत के बाद बदलेगी UK की करेंसी, राष्ट्रगान और ब्रिटिश पासपोर्ट में भी होगा बदलाव, जानें क्यों

ब्रिटेन के मैनचेस्टर में, 13 मार्च, 2017 को ली गई इस तस्वीर में एक यूनियन जैक थीम वाला वीजा क्रेडिट कार्ड ब्रिटिश मुद्रा के बीच दिखाई देता हुआ. (Reuters Photo)

ब्रिटेन के मैनचेस्टर में, 13 मार्च, 2017 को ली गई इस तस्वीर में एक यूनियन जैक थीम वाला वीजा क्रेडिट कार्ड ब्रिटिश मुद्रा के बीच दिखाई देता हुआ. (Reuters Photo)

द गार्डियन की एक रिपोर्ट के अनुसार, अभी 4.5 बिलियन स्टर्लिंग बैंक नोट प्रचलन में हैं, जिन पर क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय का ...अधिक पढ़ें

लंदनः चार्ल्स के सिंहासन पर बैठने के साथ ही ब्रिटेन और उसके बाहर, जीवन से जुड़े कई पहलू बदल जाएंगे, जिनमें राष्ट्रगान, नोट, सिक्के, पोस्टल स्टैंप, पोस्टबॉक्स और पासपोर्ट तक शामिल हैं. महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की मृत्यु के परिणामस्वरूप पूरे यूनाइटेड किंगडम और काॅमनवेल्थ में संस्थानों के नाम में परिवर्तन होगा. क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय की जगह मुद्रा और प्रतीक चिह्न पर नए राजा की प्रतिकृति लगानी पड़ेगी. News18 आपको बता रहा है कि ये बदलाव क्यों और कैसे आएंगे…

कैसे होगा करेंसी में परिवर्तन
यूनाइटेड किंगडम और अन्य कई देशों के सिक्कों और बैंक नोटों पर अब किंग चार्ल्स की प्रतिकृति दिखनी शुरू हो जाएगी. यह परिवर्तन ईस्ट कैरेबियन के साथ, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड सहित अन्य देशों की मुद्राओं पर भी दिखाई देगा. द गार्डियन की एक रिपोर्ट के अनुसार, अभी 4.5 बिलियन स्टर्लिंग बैंक नोट प्रचलन में हैं, जिन पर क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय का चेहरा है. इसका कुल मूल्य 80 बिलियन यूरो है. इन्हें नए सम्राट के चेहरे के साथ बदलने में कम से कम 2 साल लगने की उम्मीद है. हाल ही में, जब 50 यूरो के नए सिंथेटिक नोट जारी किए गए, तो बैंक ऑफ इंग्लैंड को सर्कुलेशन वाली करेंसी को वापस लेने और उन्हें नए नोटों से बदलने में 16 महीने लगे थे.

वर्ष 1952 में जब रानी गद्दी पर बैठीं, तो बैंक नोटों पर उनकी तस्वीर नहीं छपी थी. यह स्थिति 1960 में बदल गई, जब एलिजाबेथ द्वितीय का चेहरा बैंक नोट डिजाइनर रॉबर्ट ऑस्टिन द्वारा डिजाइन किये गए £1 के नोट पर दिखाई देने लगा. जिसकी बहुत गंभीर आलोचना की गई थी. कनाडा में 20 डॉलर के कुछ नोटों, न्यूजीलैंड के सिक्कों और सेंट्रल बैंक ऑफ ईस्टर्न कैरेबियन, साथ ही कुछ अन्य राष्ट्रमंडल देशों द्वारा जारी किए गए सिक्कों और बैंक नोटों पर रानी का चेहरा दिखाई देता है.

अब ‘GOD SAVE THE QUEEN’ से ‘GOD SAVE THE KING’ होगा
ब्रिटेन का राष्ट्रगान ‘गॉड सेव द क्वीन’ से अब ‘गॉड सेव द किंग’ में बदल जाएगा. वर्ष 1952 से ‘गॉड सेव द क्वीन’ ही गाया जा रहा है, क्योंकि किंग जॉर्ज की मौत के बाद एलिजाबेथ द्वितीय क्वीन बनीं और 8 सितंबर, 2022 तक सिंहासन पर विराजमान रहीं. इस तरह करीब 70 साल बाद कोई पुरुष (किंग चार्ल्स) ब्रिटेन की राजगद्दी पर बैठेगा. यह न्यूजीलैंड का भी राष्ट्रगान है. वहीं, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा का रॉयल एंथम है.

ब्रिटिश पासपोर्ट में भी होगा बदलाव
ब्रिटिश पासपोर्ट के अंदरूनी कवर पर लिखे शब्दों को भी अपडेट किया जाएगा, क्योंकि वे क्राउन के नाम पर जारी किए जाते हैं. ब्रिटिश पासपोर्स के अंदरूनी कवर पर लिखा होता है, ‘ब्रिटेन की महारानी की ओर से सेक्रेटरी ऑफ स्टेट आपसे अनुरोध करता है कि पासपोर्ट धारक को बिना किसी बाधा या परेशानी के स्वतंत्र रूप से गुजरने दें. साथ ही उसे ऐसी सभी प्रकार की सहायता और सुरक्षा प्रदान करें जो आवश्यक हो.’ ऑस्ट्रेलियाई, कनाडा और न्यूजीलैंड के पासपोर्ट के अंदर भी इसी तरह लिखा होता है. औपचारिक समारोहों में राज्य के प्रमुख को संबोधित करने वाला शब्द अब ‘The Queen’ से ‘The King’ में बदल जाएगा.

Tags: Queen Elizabeth, Queen elizabeth II, United kingdom

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें