Home /News /world /

after talibani dikrat woman tv anchor coverd faces said we were forced lak

तालिबानी फरमान के बाद महिला टीवी एंकर ने भी ढका अपना चेहरा, कहा-हमें मजबूर किया

छह महीने पहले टीवी पर न्यूज पढ़ती महिला एंकर और आज न्यूज पढ़ती महिला एंकर. (ट्विटर पर मरियम सोलायमंखिल के पोस्ट से साभार तस्वीर.)

छह महीने पहले टीवी पर न्यूज पढ़ती महिला एंकर और आज न्यूज पढ़ती महिला एंकर. (ट्विटर पर मरियम सोलायमंखिल के पोस्ट से साभार तस्वीर.)

Afghan TV anchor covered faces after Taliban dictate: तालिबानी फरमान का असर अब अफगानिस्तान में महिला एंकरों पर भी होना शुरू हो गया है. एक दिन पहले फरमान को चुनौती देनी वाली महिला एंकरों को आखिरकार पूरा चेहरा ढक कर आज न्यूज पढ़ना पड़ा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. अफगानिस्तान की सत्ता में आने के बाद तालिबान ने शुरुआत में महिलाओं को अधिकार की देने की बात कही थी लेकिन दुनिया को इस पर यकीन नहीं हुआ और कहा जाने लगा कि तालिबान महिलाओं के खिलाफ अपनी क्रूर शासन प्रणाली देर सवेर जरूर लागू करेगा. आज यह सच होता जा रहा है. तालिबान ने यह घोषणा की कि कई भी महिला सार्वजनिक स्थानों पर पूरे शरीर को ढके बगैर नहीं निकल सकती. शहरों में आम महिलाओं में इस फरमान का तामील तुरंत हो गई लेकिन टेलीविजन चैनलों में काम करने वाली महिला एंकरों ने शनिवार तक तालिबानी फरमान को मानने से इनकार कर दिया था लेकिन एक दिन बाग ही रविवार को इन महिला एंकरों को भी झुकना पड़ा और पूरे शरीर को ढक कर न्यूज पढ़ने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है. रविवार को अफगानिस्तान में प्रमुख न्यूज चैनलों के महिला एंकरों ने पूरे चेहरे को कवर किए हुए थीं. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें मजबूर किया जा रहा है.

सुप्रीम लीडर ने दिया था आदेश
एनडीटीवी की खबर के मुताबिक पिछले साल सत्ता पर कब्जा करने के बाद से तालिबान ने कई तरह के प्रतिबंध लगाए हैं. इन प्रतिबंधों के केंद्र में ज्यादातर महिलाएं ही रहती हैं ताकि इस्लाम के कठोर ब्रांड की छवि को धक्का न पहुंचे. हर किसी बात पर उन्हें ये नहीं करो, वो नहीं करो जैसे तालिबानी फरमान सुनाए जाते हैं. इस महीने की शुरुआत में अफगानिस्तान के सुप्रीम लीडर हबीतुल्ला अखुंदजदा (Hibatullah Akhundzada) ने अपना फरमान सुनाते हुए कहा था कि सार्वजनिक स्थानों पर महिलाएं पूरे शरीर को ढक कर रगे. यानी महिलाओं को पूरी तरह बुर्का पहनना होगा. इसके बाद धार्मिक मामलों के मंत्री ने टेलीविजन चैनलों में काम करने वाली महिला एंकरों को भी इस नियम का पालन करने को कहा गया.

चैनल ने पूरा चेहरा नहीं ढकने पर नौकरी से निकालने की धमकी दी
हालांकि शनिवार को महिला एंकरो ने तालिबानी फरमान का खुलकर विरोध किया और सिर्फ हिजाब पहनकर न्यूज पढ़ा लेकिन रविवार को इन्हीं एंकरों को पूरा कपड़ा पहनकर न्यूज पढ़ना पड़ा. सिर्फ आंख का हिस्सा खुला हुआ था.रविवार को टोलो न्यूज, एरियाना टेलीविजन, शमशाद टीवी और 1 टीवी पर जितनी भी महिलाएं न्यूज पढ़ने आईं सभी ने अपने पूरे चेहरे ढके थे. टोलो न्यूज पर न्यूज पढ़ने वाली महिला एंकर सोनिया नियाजी ने एएफपी को कहा कि हम इसका विरोध करते हैं. हमें पूरा चेहरा ढकने के लिए मजबूर किया गया गया. उन्होंने कहा, टोलो न्यूज ने हमपर दबाव डाला और कहा कि जितने भी फीमेल एंकर हैं, अगर वे पूरा चेहरे नहीं ढकती हैं तो उन्हें कोई और काम दिया जाएगा या हटा दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि टोलो न्यूज ने हमें पूरा चेहरा ढकने के लिए मजबूर किया.

Tags: Afghanistan, Taliban, Woman

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर