लाइव टीवी

कोरोना: ट्रंप के लॉकडाउन से इनकार के बाद सिर्फ न्यूयॉर्क में 1000 से अधिक मौतें

News18Hindi
Updated: March 30, 2020, 2:56 PM IST
कोरोना: ट्रंप के लॉकडाउन से इनकार के बाद सिर्फ न्यूयॉर्क में 1000 से अधिक मौतें
अमेरिका में 4 करोड़ लोग हुए बेरोजगार

न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रियू क्युमो (Andrew Cuomo) ने चेतावनी दी है कि कोविड-19 (coronavirus) का केंद्र बन चुके अमेरिका के न्यूयॉर्क (New York) में कोरोना सबसे भीषण दौर में है और सरकार को ज़रूरी कदम उठाने चाहिए. एक ही दिन पहले लॉकडाउन के फैसले से पलटते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने न्यूयॉर्क में यात्रा प्रतिबंधों का ऐलान किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 30, 2020, 2:56 PM IST
  • Share this:
न्यूयॉर्क. अमेरिका (USA) कोरोना संक्रमण (Coronavirus) से बुरी तरह प्रभावित है और न्यूयॉर्क (New York) स्टेट को अमेरिका का 'वुहान' भी कहा जा रहा है. यहां अभी तक संक्रमण के 1,42,735 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं जबकि 2489 लोगों की मौत हो चुकी है. अकेले न्यूयॉर्क में इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या 1000 पार कर गयी है. न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रियू क्युमो (Andrew Cuomo) ने ट्रंप सरकार को चेतावनी दी है कि ऐसे ही चलता रहा तो शहर में हजारों और मौतें होंगी.

न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रियू क्युमो ने चेतावनी दी है कि कोविड-19 का केंद्र बन चुके अमेरिका के न्यूयॉर्क में कोरोना सबसे भीषण दौर में है और सरकार को ज़रूरी कदम उठाने चाहिए. एक ही दिन पहले लॉकडाउन के फैसले से पलटते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने न्यूयॉर्क में यात्रा प्रतिबंधों का ऐलान किया था. इसके बाद गवर्नर क्युमो ने उनके इस फैसले पर हैरानी भी जाहिर की थी.

गवर्नर ने कहा- ऐसा ही चला तो और बुरा वक़्त आएगा
रविवार को इस महामारी को लेकर एक प्रेस कांफ्रेंस में क्युमो ने कहा कि न्यूयॉर्क में एक दिन में वायरस संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या 237 बढ़कर 728 से 965 पर पहुंच गई. एक दिन में मौत का यह आंकड़ा सर्वाधिक है. दिन के अंत तक मृतक संख्या एक हजार के पार पहुंच गई है. न्यूयॉर्क सिटी में शनिवार रात से रविवार सुबह तक 161 लोगों की मौत हो गई जिससे राज्यभर में मौत की आंकड़ा एक हजार के पार पहुंच गया.



क्युमो ने कहा कि इस महामारी का प्रकोप कम होने से पहले हजारों लोगों की मौत हो चुकी होगी. उन्होंने कहा, 'मुझे नहीं पता कि आप इन आंकड़ों को किस तरह देखते हैं और हजारों लोगों की मौत हो चुकी होगी. मौत का आंकड़ा बढ़ता जाएगा. सर्वाधिक प्रभावित राज्यों में न्यूयॉर्क सबसे पहले है.' बता दें कि सिर्फ अकेले न्यूयॉर्क में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 60000 से भी ज्यादा हो गयी है.



वायरस के 1100 मरीजों को मलेरिया की दवा दी गई: ट्रंप
उधर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि न्यूयॉर्क में कोरोना वायरस के 1100 मरीजों को मलेरिया की 'हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन' दवाई दी गई है. इस दवा से, संभवत: इस जानलेवा वायरस से निपटने में मदद मिल सकती है ,जिससे देश भर में 1,40,000 से अधिक लोग संक्रमित हैं. यह दवाई सस्ती है और इसके कोई दुष्प्रभाव भी नहीं है. मलेरिया से निपटने के लिए 1955 में इसका सबसे अधिक इस्तेमाल किया गया था.

व्हाइट हाउस में दैनिक संवाददाता सम्मेलन में ट्रम्प ने कहा, 'न्यूयॉर्क में 1100 मरीजों को 'जेड पैक' के साथ 'हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन' दवाई दी गई है. अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी क्योंकि इसे अभी दो दिन ही हुए हैं. लेकिन देखते हैं क्या होता है.' पिछले सप्ताह ट्रम्प ने कहा था कि यह दवाई 'भगवान का तोहफा' साबित हो सकती है. ट्रम्प ने खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) के निदेशक स्टीफन का कोविड-19 के उपचार के लिए इस दवाई का इस्तेमाल करने की अनुमति देने के लिए भी शुक्रिया किया.

 

यह भी पढ़ें:- 

अलर्ट! चीन में ठीक हुए लोगों में से 10% को फिर से हो गया कोरोना संक्रमण

कोरोना: US में हालात बेकाबू, सामने आए 13355 नए केस, अब तक 1027 की मौत

क्या चीन के 'डर' से WHO ने छुपाए कोरोना के केस, अब दुनिया झेल रही नतीजा!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 30, 2020, 2:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading