लाइव टीवी

जानें IS सरगना बगदादी के शव को अमेरिका ने कैसे ठिकाने लगाया, ऑपरेशन का वीडियो फुटेज होगा जारी

भाषा
Updated: October 29, 2019, 8:01 PM IST
जानें IS सरगना बगदादी के शव को अमेरिका ने कैसे ठिकाने लगाया, ऑपरेशन का वीडियो फुटेज होगा जारी
बगदादी मारा गया, लेकिन अमेरिका ने उसके शव का आखिर क्‍या किया?

IS के सरगना अबू बक्र-अल बगदादी (abu bakr al baghdadi) के शव का अंतिम संस्‍कार मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) और सशस्त्र संघर्ष कानून के अनुरूप किया गया है.

  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका के शीर्ष जनरल के मुताबिक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट/आईएस (IS) के सरगना अबू बक्र-अल बगदादी (abu bakr al baghdadi) के शव का निपटारा मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) और सशस्त्र संघर्ष कानून के अनुरूप किया गया है.

दुनिया के सर्वाधिक वांछित आतंकवादी बगदादी द्वारा खुद को विस्फोट कर उड़ा देने की रविवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घोषणा की थी. अमेरिकी विशेष बलों के एक अभियान के तहत अमेरिकी सेना के एक कुत्‍ते ने उत्तर-पश्चिमी सीरिया स्थित एक सुरंग में उसका पीछा किया था.

अमेरिकी कमांडो का साल भर लंबा अभियान शनिवार रात उत्तर पश्चिम सीरिया में 48 वर्षीय बगदादी की तलाश के साथ खत्म हो गया. 'ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ' के प्रमुख जनरल मार्क मिले ने संवाददाताओं से कहा, 'बगदादी के शव को फॉरेंसिक डीएनए जांच के लिए एक सुरक्षित केंद्र ले जाया गया था, ताकि उसकी पहचान की पुष्टि की जा सके और शव का निपटारा किया जा सके. यह प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और इसे उचित तरीके से किया गया.'

जारी किए जा सकते हैं सैन्‍य अभियान के कुछ फुटेज

शीर्ष जनरल ने कहा, 'मानक संचालन प्रक्रिया और सशस्त्र संघर्ष कानून के अनुरूप शव का निपटारा किया गया.' मिले ने कहा कि तस्वीरें और वीडियो गोपनीय दस्तावेज सार्वजनिक किए जाने की प्रक्रिया में हैं. राष्ट्रपति ट्रंप ने पहले कहा था कि सैन्य अभियान के कुछ फुटेज जारी किये जा सकते हैं.

बगदादी के शव का निपटारा भी ओसामा बिन लादेन के शव की तरह ही किया गया है.


अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन के पाकिस्तान के ऐबटाबाद में 2011 में मारे जाने के बाद उसके शव को भी समुद्र में फेंक दिया गया था. मिले ने सवालों का जवाब देते हुए कहा कि जिस स्थान पर बगदादी मारा गया, वहां से अमेरिकी बलों को आईएसआईएस के बारे में कई चीजें और भविष्य की उसकी योजना के बारे में भी जानकारी मिली है.
Loading...

सेना की सुरंग में बगदादी का पीछा किया
उन्होंने यह भी बताया कि अमेरिकी बलों ने बगदादी के दो सहयोगियों को भी पकड़ा है. अमेरिकी राष्ट्रपति के इस बयान के बारे में पूछे जाने पर कि बगदादी मरने से पहले गिड़गिड़ा रहा था, मिले ने कहा कि राष्ट्रपति का कथन अभियान में शामिल लोगों से बातचीत पर आधारित है. उल्लेखनीय है कि उत्तर-पश्चिमी सीरिया में अमेरिकी सैनिकों ने एक तरफ से बंद सुरंग में बगदादी का पीछा किया और जब उसके पास बचने का कोई रास्ता नहीं बचा, तो उसने आत्मघाती जैकेट में विस्फोट कर खुद को और तीन अन्य को उड़ा दिया.

इस बीच, पेंटागन ने कहा कि बगदादी का पीछा करने के अभियान के दौरान घायल हुए अमेरिकी सेना के एक कुत्‍ते की पहचान वो उजागर नहीं करेगा. मिले ने कहा, 'के-9 सैन्य कुत्‍ते ने बेहतरीन काम किया, जैसा कि वे सभी विभिन्न स्थिति में करते हैं. वह मामूली रूप से घायल हो गया है...'

सीरियाई कुर्द ने दी थी सूचना
इराक और सीरिया के ज्यादातर हिस्सों में पांच बरसों तक आतंक के राज के पीछे मौजूद बगदादी का पता लगाने में अमेरिका को सीरियाई कुर्द से मुख्य रूप से खुफिया सूचना मिली थी.

इस बीच समाचार एजेंसी एएफपी की एक खबर के मुताबिक रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने सीरिया के इदलिब क्षेत्र में एक ग्रामीण परिसर में इस अभियान के लिए हेलीकॉप्टर से उतारे गए करीब सौ सैनिकों की सराहना की. इस कार्रवाई में रूसियों, कुर्द, तुर्क और सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद से समन्वय बनाने की जरूरत पड़ी. एस्पर ने कहा, 'उन्होंने बहुत ही शानदार तरीके से इस कार्रवाई को अंजाम दिया.' वहीं, मिले ने कहा कि इस अभियान में कोई भी सैनिक घायल नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें: 

जानिए कितनी खतरनाक है बगदादी को खत्म करने वाली US स्पेशल फोर्स 'डेल्टा'
बगदादी के खात्मे के दौरान घायल हुए कुत्ते की पहचान उजागर नहीं करेगा अमेरिका
बगदादी के खात्मे के लिए US ने चलाया था ‘मिशन कायला’, जानें क्यों रखा था ये नाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 29, 2019, 6:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...