21 से कम उम्र के बच्चे नहीं खरीद सकते शराब, पर ले सकते हैं बंदूक, अमेरिका के 8 विचित्र फैक्ट्स

अमेरिका में गन कल्चर के अलावा कई ऐसी विचित्र बाते हैं, जिनका आम लोगों के गले उतरना नामुमकिन है (फोटो क्रेडिट- AP)
अमेरिका में गन कल्चर के अलावा कई ऐसी विचित्र बाते हैं, जिनका आम लोगों के गले उतरना नामुमकिन है (फोटो क्रेडिट- AP)

अमेरिकी (Americans) अपने देश पर 'दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्र' (Oldest Democracy in the World) होने के चलते गर्व करते हों लेकिन वहां भी बहुत सी कमियां हैं. अक्सर अमेरिका के अच्छा और शक्तिशाली (powerful) होने की छवि पेश की जाती है, वह छवि बेदाग नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2020, 3:59 PM IST
  • Share this:
अमेरिकी चुनावों (American Election) की गहमागहमी जारी है. कई राज्यों में चुनाव अभी होने हैं, जबकि कई में वोटिंग शुरू हो चुकी है. 3 नवंबर तक अमेरिका (America) में चुनाव पूरे हो जाएंगे और उसी रात वोटों की गिनती शुरू हो जाएगी. इसके साथ ही यह भी पता चल जाएगा कि रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को फिर से सत्ता मिलेगी या फिर उनकी जगह डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन (Joe Biden) लेंगे. परिणाम चाहे जो भी हो लेकिन यह एक सच है कि भले ही अमेरिकी अपने देश पर 'दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्र' (Oldest Democracy in the World) होने के चलते गर्व करते हों लेकिन वहां भी बहुत सी कमियां हैं. अक्सर अमेरिका के अच्छा और शक्तिशाली (powerful) होने की छवि पेश की जाती है, वह छवि बेदाग नहीं है.

यहां हम आपको अमेरिकी राजनीति व्यवस्था, कानून (law) और समाज की उन्हीं खामियों के बारे में बता रहे हैं, जिनमें से कुछ के बारे में सुनकर किसी भी अमेरिकी (American) का सिर शर्म के मारे झुक जाता है. ये हैं वो 6 बातें, जिन्हें कोई अमेरिकी अपने देश के बारे में नहीं सुनना चाहेगा-
अमेरिका में 16 साल के एक बच्चे को गाड़ी चलाने के लिए लाइसेंस दिया जा सकता है. वहीं शराब खरीदने के लिए व्यक्ति का 21 साल से अधिक का होना जरूरी है. इस बात की अक्सर यह कहकर आलोचना भी की जाती है कि निश्चित तरह की बंदूकें खरीदने के लिए बच्चे की न्यूनतम आयु 14 साल है और गाड़ी चलाने के लिए 16 साल लेकिन शराब पीने के लिए उसका 21 साल से अधिक का होना जरूरी है.
यूं तो अमेरिका में एक बंदूक का मालिक बनने के लिए व्यक्ति की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए. लेकिन शॉटगन जैसी बंदूक के लिए कुछ राज्यों में 14 साल की उम्र का भी प्रावधान है. बंदूक का अधिकारी होने के लिए अलग-अलग राज्यों में व्यक्ति की उम्र 14 से 21 साल के बीच होनी चाहिए. अमेरिका में बंदूकों की संख्या इंसानों से कहीं ज्यादा है. यानी कि हर इंसान को अगर एक बंदूक दी जाती है तो भी करोड़ों की संख्या में बंदूकें बची रहेंगीं. अमेरिका की जनसंख्या करीब 33 करोड़ है. लेकिन देश में बंदूकों की संख्या करीब 40 करोड़ हैं.
अमेरिका के इसी गन कल्चर के चलते वहां बच्चों के स्कूल में शूटिंग की घटनाएं आम हैं. हर साल ऐसी पचासों घटनाएं वहां के स्कूलों में होती हैं. 2019 में की गई एक स्टडी के मुताबिक उससे पहले स्कूली बच्चों ने जो ऐसी 44 शूटिंग की घटनाओं को अंजाम दिया था, उसमें से 15 में एक या एक से ज्यादा लोगों की स्कूलों में मौत हुई थी.
अमेरिका भले ही दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्रा हो लेकिन यह कहा जा सकता है कि अमेरिका के चुनाव जनता के सही मूड को प्रदर्शित नहीं करते हैं. इसकी वजह है इलेक्टोरल कॉलेज नाम की प्रक्रिया, जिसमें उसे जीता माना जाता है, जो ज्यादा राज्यों के अलग-अलग चुनावों में ज्यादा सीटें जीतता है. यही वजह थी कि 2016 के चुनावों में हिलेरी क्लिंटन 48.5% वोट पाने के बाद भी हार गई थीं, जबकि डोनाल्ड ट्रंप को सिर्फ 46.4% वोट ही मिले थे.
अमेरिका की करेंसी में एक सबसे बुरी बात यह है कि डॉलर के सभी नोट लगभग एक ही आकार और रंग के होते हैं. ऐसे में इनकी पहचान आसान बनाने के लिए कई बार इनके रंग में अंतर किये जाने और अलग-अलग मूल्य के नोटों को अलग-अलग आकार का बनाये जाने की मांग भी उठ चुकी है.
अमेरिका पूरी तरह से पूंजीवादी देश है. यहां पर हर चीज बाजार के नजरिए से होती है. ऐसे में लोग मार्केट में उपलब्ध पैकेटबंद सस्ते जंक फूड बहुत ज्यादा खाते हैं. चीज़ का हर खाने में उपयोग आम बात है और काम के दौरान लोग अपनी डेस्क पर ही खाना खाना पसंद करते हैं. साथ ही सॉफ्ट ड्रिंक्स यहां पर हर रोज पीना आम बात है. इस तरह की जीवनशैली के चलते अमेरिका में मोटापे की समस्या एक बहुत आम बात है. यहां हर 10 में से 4 लोग मोटापे के शिकार हैं.
अमेरिका में एसी की सेटिंग में 'आर्कटिक' नाम का एक पैमाना भी होता है, जो बिल्कुल जमाने वाला तापमान कर देता है. बहुत सी दुकानों और शोरूम में आप इतना ही ठंडा तापमान पाएंगे, ऐसे में हो सकता है आपको भरी गर्मी की दोपहर में भी जैकेट और स्कार्फ पहनना पड़े, जो स्वास्थ्य के लिए खराब हो सकता है. साथ ही यहां कोल्ड ड्रिंक में कई बार 70% तक बर्फ का इस्तेमाल किया जाता है.
अमेरिकी टेलिविजन रियलिटी शो को अगले स्तर तक ले गए. इतना ही नहीं अमेरिका में लोग टीवी बहुत देखते हैं, जिसके चलते हर रेस्टोरेंट में भी आपको टीवी लगा मिल जाएगा. लेकिन जैसा कि बताया जा चुका है कि अमेरिका पूंजीवादी समाज है, ऐसे में हर टीवी प्रोग्राम के आधे घंटे में 10 मिनट से ज्यादा ऐड आते हैं. इनमें से सबसे ज्यादा ऐड मोटापा घटाने से जुड़े होते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज