होम /न्यूज /दुनिया /

अमेरिका कोरोना से दुनिया का सबसे प्रभावित देश, 8 लाख से ज्यादा मौंते; अबतक 5 करोड़ केस

अमेरिका कोरोना से दुनिया का सबसे प्रभावित देश, 8 लाख से ज्यादा मौंते; अबतक 5 करोड़ केस

अमेरिका में मरने वालों की संख्या किसी भी अन्य देश से कहीं अधिक है. दुनिया में कोरोना वायरस से दूसरा सबसे अधिक प्रभावित देश ब्राजील है. (AP)

अमेरिका में मरने वालों की संख्या किसी भी अन्य देश से कहीं अधिक है. दुनिया में कोरोना वायरस से दूसरा सबसे अधिक प्रभावित देश ब्राजील है. (AP)

Coronavirus cases in US: अमेरिका में कोरोना से 8 लाख मौतों का आकंड़ा बोस्टन या वॉशिंगटन डीसी जैसे शहरों की कुल आबादी से भी अधिक है. हैरानी की बात ये है कि महामारी में मरने वाले अमेरिकी लोगों की संख्या दूसरे विश्व युद्ध में जान गंवाने वाले अमेरिकियों से दोगुनी है. सोमवार को संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 5 करोड़ का आंकड़ा पार कर गई. बिना वैक्सीन लगवाए लोगों और बुजुर्गों में मौत की दर बढ़ने की आशंका है.

अधिक पढ़ें ...

    वॉशिंगटन. अमेरिका में कोरोना वायरस (Coronavirus cases in US) से मौत का कुल आंकड़ा 8 लाख से अधिक हो गया है. ये संख्या दुनिया के किसी भी देश के मुकाबले सबसे अधिक है. इसके अलावा यहां सोमवार को संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 5 करोड़ का आंकड़ा पार कर गई (Covid Deaths in US). बिना वैक्सीन लगवाए लोगों और बुजुर्गों में मौत की दर बढ़ने की आशंका है. ऐसा भी कहा जा रहा है कि साल 2021 में पिछले साल के मुकाबले और अधिक मौत दर्ज होंगी. देश में एक बार फिर मौत का आंकड़ा खतरनाक तरीके से बढ़ रहा है.

    पिछली 100,000 मौतें महज 11 हफ्तों में हुई हैं, जो पिछली सर्दियों के मुकाबले अधिक है. जॉन्स हॉपकिन्स ब्लूमबर्ग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में महामारी विज्ञानी डॉक्टर केरी एल्थॉफ ने कहा, ‘हम जो बीमारी की लहरें देख रहे हैं, वह तब तक जारी रहेंगी जब तक कि जनसंख्या में उचित स्तर में हर्ड इम्युनिटी ना आ जाए, जिससे बीमारी को रोका जा सकता है. हम अभी उस स्तर तक नहीं पहुंचे हैं.’ अमेरिका में कोरोना वायरस से पहली मौत वाशिंगटन के सिएटल में दर्ज की गई थी, जिसे 650 दिन से अधिक हो गए हैं. लेकिन अब भी हालात नियंत्रित नहीं हो सके.

    चीन में मिला ओमिक्रॉन का पहला केस, डेल्टा के नए स्ट्रेन से भी मचा हड़कंप

    तीन वैक्सीन को मिली मंजूरी
    फाइजर वैक्सीन को सबसे पहले अमेरिका में मंजूरी मिली थी. इसे लोगों को पिछली सर्दियों से लगाया जा रहा है. तब करीब 300,000 से अधिक मौत दर्ज की गई थीं (Vaccination in US). इसी साल अप्रैल में दो और वैक्सीन- मॉडर्ना और सिंगल-डोज जॉनसन एंड जॉनसन को मंजूरी दी गई. तीनों वैक्सीन सभी उम्र के वयस्कों को लगाई जा रही है. 800,000 का ये आंकड़ा बोस्टन या वॉशिंगटन डीसी जैसे शहरों की कुल आबादी से भी अधिक है. हैरानी की बात ये है कि महामारी में मरने वाले अमेरिकी लोगों की संख्या दूसरे विश्व युद्ध में जान गंवाने वाले अमेरिकियों से दोगुनी है.

    ब्राजील दूसरा सबसे प्रभावित देश
    अमेरिका में मरने वालों की संख्या किसी भी अन्य देश से कहीं अधिक है. दुनिया में कोरोना वायरस से दूसरा सबसे अधिक प्रभावित देश ब्राजील है. जहां 616,000 से अधिक मौत हुई हैं. तीसरे स्थान पर भारत है, यहां 475,000 से अधिक मौत हुई हैं. राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) लोगों से वैक्सीन लगवाने के लिए अपील कर रहे हैं. उनका कहना है कि लोगों के वैक्सीन नहीं लगवाने के चलते मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है.

    कितना नुकसान पहुंचा सकता है कोरोना का ओमिक्रॉन वेरिएंट? हुआ खुलासा

    इस बीच अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के मुख्य चिकित्सा सलाहकार डॉ. एंथनी फाउची ने कहा कि नया ओमीक्रॉन वेरिएंट अमेरिका में फैलने वाला मुख्य वेरिएंट बन सकता है.

    Tags: America, Coronavirus, Coronavirus vaccine, Covid vaccine, Omicron, Pfizer vaccine

    अगली ख़बर