लाइव टीवी

संबंध सुधारने के लिए उत्तर कोरिया से बातचीत को तैयार है अमेरिकाः पोम्पिओ

भाषा
Updated: September 20, 2018, 12:01 PM IST
संबंध सुधारने के लिए उत्तर कोरिया से बातचीत को तैयार है अमेरिकाः पोम्पिओ
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग (फाइल फोटो)

पोम्पिओ ने कहा कि इस बातचीत के साथ ही उत्तर कोरिया के तेजी से परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में बढ़ने के माध्यम से अमेरिका और उत्तर कोरिया के संबंधों में सुधार की बातचीत शुरू होगी.

  • भाषा
  • Last Updated: September 20, 2018, 12:01 PM IST
  • Share this:
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने गुरुवार को कहा कि अमेरिका 2021 तक पूरी तरह से परमाणु निरस्त्रीकरण और संबंधों में सुधार के लिए उत्तर कोरिया से तुरंत बातचीत करने को तैयार है. पोम्पिओ का यह बयान आने से पहले उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग में शासक किम जोंग उन और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेइ-इन के बीच हुए शिखर सम्मेलन के बाद बुधवार को किम ने अंतरराष्ट्रीय निरीक्षकों की मौजूदगी में अपना मिसाइल परीक्षण केन्द्र बंद करने की बात कही थी.

यह भी पढ़ें: कैलिफोर्निया में बंदूकधारी ने पांच लोगों की हत्या कर खुद को मारी गोली

सिंगापुर सम्मेलन में हुए समझौते के वादों को दोहराने के लिए पोम्पिओ ने एक बयान जारी कर किम और मून को धन्यवाद दिया. बुधवार को कोरियाई नेताओं ने अपने संयुक्त बयान में कहा था कि अमेरिका और अंतरराष्ट्रीय नाभिकीय ऊर्जा संस्थान के निरीक्षकों की उपस्थिति में उत्तर कोरिया प्योंगयांग स्थित अपना मुख्य परमाणु परीक्षण केन्द्र बंद करने को तैयार है.

यह भी पढ़ें: भारत-पाक की 'दोस्ती' के लिए इमरान खान ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी, रखी ये मांग



पोम्पिओ ने कहा कि इसके साथ ही उत्तर कोरिया के तेजी से परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में बढ़ने के माध्यम से अमेरिका और उत्तर कोरिया के संबंधों में सुधार की बातचीत शुरू होगी. परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया जनवरी 2021 तक पूरी होनी है, जैसा कि अध्यक्ष किम ने वादा किया है. इससे कोरियाई प्रायद्वीप में स्थाई और शांतिपूर्ण शासन कायम होगा.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान के आतंकी समूह अब भी कर रहे भारत पर हमला- अमेरिकी रिपोर्ट

पोम्पिओ ने कहा, अमेरिका और अंतरराष्ट्रीय निरीक्षकों की मौजूदगी में तोंगचांग-री परीक्षण केन्द्र को बंद करने के किम के फैसले का हम स्वागत करते हैं. सिंगापुर सम्मेलन के दौरान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और किम के बीच इस बारे में सहमति बनी थी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 20, 2018, 12:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर