अमेरिका की रूस को दो टूक-ओपन स्काइज आर्म्स कंट्रोल समझौते में नहीं होंगे शामिल

जो बाइडेन (File pic)

America-Russia: इस संधि से अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका को अलग कर लिया था. बृहस्पतिवार के फैसले का यह मतलब है कि विश्व की प्रमुख परमाणु शक्तियों के बीच केवल एक मुख्य हथियार नियंत्रण संधि है जिसका नाम ‘न्यू स्टार्ट संधि’ है.

  • Share this:
    वॉशिंगटन. अमेरिका में जो  बाइडन (Joe Biden) प्रशासन ने रूस को बताया कि अमेरिका एक प्रमुख हथियार नियंत्रण समझौते (Open Sky Treaty) में फिर से शामिल नहीं होगा. अमेरिका ने रूस को यह स्पष्टीकरण ऐसे समय दिया है जब दोनों पक्ष अपने नेताओं के बीच अगले महीने होने वाली शिखर बैठक की तैयारी कर रहे हैं. अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि अमेरिका की उप विदेश मंत्री वेंडी शेरमेन ने रूस के अधिकारियों को बताया कि अमेरिकी प्रशासन ने ओपन स्काई संधि में फिर से प्रवेश नहीं करने का फैसला किया है जिसके तहत दोनों देशों में सैन्य इकाइयों पर निगरानी उड़ानों की अनुमति थी.
    इस संधि से अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका को अलग कर लिया था. इस फैसले का यह मतलब है कि विश्व की प्रमुख परमाणु शक्तियों के बीच केवल एक मुख्य हथियार नियंत्रण संधि है जिसका नाम ‘न्यू स्टार्ट संधि’ है. ट्रंप ने न्यू स्टार्ट संधि का विस्तार करने के लिए कुछ नहीं किया, जो इस साल की शुरुआत में खत्म होनी थी.

    ये भी पढ़ें:- रामदेव के बचाव में उतरे BJP विधायक, एलोपैथिक डॉक्टरों को बताया राक्षस

    जो बाइडन के अमेरिका के राष्ट्रपति के तौर पर पद ग्रहण करने के बाद उनका प्रशासन इसे पांच साल के लिए विस्तारित करने के लिए तेजी से आगे बढ़ा और ओपन स्काइज संधि से हटने की समीक्षा शुरू की. अधिकारियों ने कहा कि समीक्षा पूरी हो चुकी है और शेरमेन ने रूस के उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव को बृहस्पतिवार को ‘ओपन स्काई संधि’ में नहीं लौटने के अमेरिकी फैसले के बारे में सूचित किया.

    अधिकारी इस मामले पर सार्वजनिक रूप से चर्चा करने के लिए अधिकृत नहीं थे और उन्होंने यह जानकारी नाम गुप्त रखने की शर्त पर दी. अमेरिका की ओर से यह कदम ऐसे समय में आया है जब राष्ट्रपति जो बाइडन और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन 16 जून को जिनेवा, स्विट्जरलैंड में बैठक करने वाले हैं.