लाइव टीवी

गर्भवती महिलाओं के वीजा पर रोक लगाएगा अमेरिका, ये है बड़ी वजह

भाषा
Updated: January 23, 2020, 7:02 AM IST
गर्भवती महिलाओं के वीजा पर रोक लगाएगा अमेरिका, ये है बड़ी वजह
अमेरिकी राष्ट्रपति ने माना भारत और चीन ने विकासशील देश होने का उठाया फायदा

‘बर्थ टूरिज्म’ अमेरिका (America) और विदेशों में काफी फल-फूल रहा है. अमेरिकी कंपनियां इसके लिए विज्ञापन भी देती हैं. वहींं, नए नियम से गर्भवती महिलाओं के लिए पर्यटन वीजा पर यात्रा करना कठिन होगा.

  • Share this:

वाशिंगटन. ट्रंप प्रशासन वीजा पर कुछ नई पाबंदी लगाने जा रहा है. इसके तहत ऐसी महिलाओं पर बंदिशें लगाई जाएंगी, जो बच्चों को जन्म (Birth) देने के लिए अमेरिका (America) जाना चाहती हैं, ताकि उनके बच्चों को अमेरिकी पासपोर्ट (Passport) मिल जाए. घटनाक्रम से वाकिफ दो अधिकारियों ने बताया कि विदेश विभाग बृहस्पतिवार को इस नियम को जारी करेगा. नए नियम से गर्भवती महिलाओं के लिए पर्यटन वीजा पर यात्रा करना कठिन होगा. नियम के एक मसौदे में कहा गया है कि उन्हें वीजा हासिल करने के लिए ‘काउन्सिलर ऑफिसर’ को समझाना होगा कि अमेरिका आने के लिए उनके पास कोई और वाजिब कारण है.


ट्रंप ने कड़ा रुख अपनाया है





प्रशासन आव्रजन के सभी प्रारूपों पर बंदिश लगा रहा है लेकिन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खासकर ‘जन्मजात नागरिकता’ के मुद्दे पर कड़ा रुख अपनाया है. इसके तहत गैर अमेरिकी नागरिकों के बच्चों को अमेरिका में जन्म लेने के साथ मिलने वाली नागरिकता के अधिकार को खत्म करना है.

विदेशों में काफी फल-फूल रहा है
‘बर्थ टूरिज्म’ अमेरिका और विदेशों में काफी फल-फूल रहा है. अमेरिकी कंपनियां इसके लिए विज्ञापन भी देती हैं और होटल के कमरे और चिकित्सा सुविधा आदि के लिए 80,000 डॉलर तक वसूलती हैं. रूस और चीन जैसे देशों से कई महिलाएं बच्चे को जन्म देने के लिए अमेरिका आती हैं. ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद से ही अमेरिका इस तरह के चलन के खिलाफ कदम उठा रहा है.




ये भी पढ़ें- 

झाविमो में शह और मात का खेल अंतिम दौर में, कभी भी हो सकता है पटाक्षेप 


VM से निकाले गये बंधु तिर्की, पार्टी विरोधी गतिविधि करने का आरोप




News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 1:13 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर