लाइव टीवी

हर 2.9 मिनट पर एक कोरोना मरीज की मौत, ट्रक में भरी गईं लाशें

News18Hindi
Updated: March 31, 2020, 9:43 PM IST
हर 2.9 मिनट पर एक कोरोना मरीज की मौत, ट्रक में भरी गईं लाशें
अंबाला में कोरोना से पहली मौत

सोमवार का दिन न्यूयॉर्क (New York) के लिए बेहद भयावह रहा. यहां कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण की वजह से 6 घंटों के दौरान हर 2.9 मिनट पर एक मौत दर्ज की गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2020, 9:43 PM IST
  • Share this:
न्यूयॉर्क: अमेरिकी शहर न्यूयॉर्क (New York) के लिए सोमवार का दिन काफी भयावह रहा. सोमवार को न्यूयॉर्क में 6 घंटों के दौरान हर 2.9 मिनट पर एक कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज की मौत हो गई. हालत इतनी बुरी थी कि एक हॉस्पिटल के पास एक रेफ्रीजेरेटेड ट्रक रखा गया था. मरने वालों की लाशें उस ट्रक में भरी जा रही थी.

डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक न्यूयॉर्क में सोमवार को 90 मिनट के दौरान कोराना वायरस की वजह से 138 मौतें हुईं. ब्रुकलिन में ट्रकों के जरिए लाशों को ढोया जा रहा था.

न्यूयॉर्क में मौत के भयावह 6 घंटे
सोमवार को सुबह के 10.30 बजे से लेकर 4.30 बजे तक का छह घंटे का वक्त भयावह रहा. इस दौरान हर 2.9 मिनट पर एक मौत दर्ज की गई. सोमवार को न्यूयॉर्क में वायरस संक्रमण की वजह से 914 मौतें हुईं. इस दौरान संक्रमण के 38 हजार मामले सामने आए. न्यूयॉर्क में अब तक वायरस संक्रमण के 66,497 मामले सामने आ चुके हैं. संक्रमण की वजह से कुल 1,218 लोगों की मौत हो चुकी है.



ब्रुकलिन के माऊंट सिनाई हॉस्पिटल के बाहर का नजारा दर्दनाक था. वहां हॉस्पिटल के बाहर रेफ्रीजेरेटेड ट्रक लगाया गया था. हर घंटे-आधे घंटे के अंतराल पर ट्रक में लाशों के ढेर लग जाते. लोगों की आंखों के सामने ट्रक में लाशों को रखा जा रहा था. स्थानीय लोग अपनी आंखों के सामने भयावह स्थिति को देख रहे थे.



न्यूयॉर्क के मेयर बिल डे ब्लासियो ने कहा है कि हेल्थ वर्कर्स पूरी क्षमता से काम कर रहे हैं. फेडरल इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी के साथ मिलकर ज्यादा डेड बॉडी के स्टोरेज पर काम किया जा रहा है. एंबुलेंस सेवाओं को भी बढ़ाया गया है.

न्यूयॉर्क के होटलों को हॉस्पिटल में बदला गया
न्यूयॉर्क के मेयर ने एक इंटरव्यू में बताया है कि शहर के सभी होटलों को लीज पर लिया गया है और उन्हें हॉस्पिटल में बदल दिया गया है. मेयर ने कहा है कि हजारों रूम की जरूरत है, इसलिए ये कदम उठाया गया है.

मेयर ने कहा है कि ऐसा लगता है कि पूरे सत्र के लिए सभी स्कूलों को बंद करना पड़ेगा. उन्होंने कहा है कि मुझे डर है कि ये संकट मई तक चलेगा. स्कूलों को बंद ही रखना पड़ सकता है. मेयर ने कहा कि डिस्टेंस लर्निंग एक अच्छा ऑप्शन नहीं है. वो छात्रों के लिए बुरा महसूस कर रहे हैं क्योंकि उन्हें शिक्षा से दूर रहना पड़ रहा है.

मेयर ने कहा है कि मकान मालिक अपने किरायदारों के सिक्योरिटी डिपोजिट्स को इस महीने का किराया मानें. उन्होंने कहा कि लोगों के पास किराया देने के लिए पैसे नहीं हैं. बिना आमदनी के ऐसे लोगों से किराया मांगना ठीक नहीं है. इस बीच पिछले हफ्ते करीब 32 लाख लोगों ने बेरोजगारी भत्ता के लिए आवेदन किया है.

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के संक्रमण के 7 लाख 75 हजार 306 मामले सामने आ चुके हैं. अमेरिका इससे बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. यहां सबसे ज्यादा 1 लाख 60 हजार 20 संक्रमण के मामले दर्ज हुए हैं. न्यूयॉर्क सबसे बुरी तरह से संक्रमण की चपेट में है. यहां संक्रमण के 66,497 मामले सामने आ चुके हैं. सोमवार तक अमेरिका में 2,953 लोगों की कोरोना के चलते मौत हो चुकी है.

ये भी पढ़ें:

कोरोना: घर से बाहर निकले तो होगी 90 दिनों की जेल, 3 लाख 75 हजार का जुर्माना

कोरोना के दौरान प्रवासियों और शरणार्थियों को नागरिकता के सारे अधिकार देगा पुर्तगाल

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए चीन से मेडिकल उपकरण और वेंटिलेटर्स खरीदेगा भारत

कोरोना: अमेरिका के सबसे ग्लैमरस शहर में लोग खुले पार्किंग स्पेस में सोने को मजबूर

कोराना: अमेरिका में 9/11 से भी ज्यादा मौतें, एक्सपर्ट बोले- अभी इससे भी बुरा होगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 31, 2020, 9:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading