लाइव टीवी

कोरोना : हॉस्पिटल के कॉरिडोर में करना पड़ रहा इलाज, वेंटिलेटर्स की भीख मांग रहे हैं डॉक्टर्स

News18Hindi
Updated: April 1, 2020, 4:46 PM IST
कोरोना : हॉस्पिटल के कॉरिडोर में करना पड़ रहा इलाज, वेंटिलेटर्स की भीख मांग रहे हैं डॉक्टर्स
मंगलवार तक न्यूयॉर्क (New York) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के 76,049 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं. संक्रमण की चपेट में आकर 1,550 लोगों की मौत हो चुकी है.

मंगलवार तक न्यूयॉर्क (New York) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के 76,049 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं. संक्रमण की चपेट में आकर 1,550 लोगों की मौत हो चुकी है.

  • Share this:
न्यूयॉर्क. अमेरिकी शहर न्यूयॉर्क (New York) का कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण की वजह से बुरा हाल है. न्यूयॉर्क के हॉस्पिटलों (Hospitals) में मरीजों की इतनी भरमार हो चुकी है कि इलाज करना मुश्किल हो गया है. हालत इतनी बुरी हो गई है कि हॉस्पिटल के कॉरिडोर में मरीजों का इलाज करना पड़ रहा है. डॉक्टर्स वेंटिलेटर्स की भीख मांग रहे हैं लेकिन उन्हें वेंटिलेटर्स नहीं मुहैया करवाई जा रही है. पिछले 24 घंटों के दौरान न्यूयॉर्क में कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से मौत का आंकड़ा एक हजार के पार चला गया है.

डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक मंगलवार तक न्यूयॉर्क में वायरस के संक्रमण के 76,049 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं. संक्रमण की चपेट में आकर 1,550 लोगों की मौत हो चुकी है. सिर्फ न्यूयॉर्क मुख्य शहर में संक्रमण की वजह से 1,096 मौतें हुई हैं. यहां संक्रमण के 43,119 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. पिछले दिन यहां 182 लोगों की मौत दर्ज की गई है.

हालात के लिए न्यूयॉर्क के गवर्नर को जिम्मेदार ठहरा रहे ट्रंप
अमेरिका के राष्ट्रपति न्यूयॉर्क के हालात के लिए वहां के गवर्नर को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. मंगलवार को उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई देरी से शुरू हुई. ट्रंप ने कहा है कि न्यूयॉर्क की खुलकर मदद की जा रही है. फेडरल गवर्नमेंट ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए वेंटिलेटर्स भिजवाए हैं. हालांकि न्यूयॉर्क के हॉस्पिटल में वेंटिलेटर्स की भारी कमी है.



मंगलवार को न्यूयॉर्क के हॉस्पिटल का नजारा भयावह था. न्यूयॉर्क के ब्रुकलिन में ब्रुकलेड हॉस्पिटल मेडिकल सेंटर की हालत बुरी दिखी. यहां के कॉरिडोर में मरीजों का इलाज चल रहा था. हॉस्पिटल में मरीजों की बाढ़ आई हुई है और उतनी संख्या में बेड नहीं हैं. मजबूरन हॉस्पिटल के कॉरिडोर में मरीजों का इलाज करना पड़ रहा है. हेल्थ वर्कर्स के सामने मेडिकल उपकरणों की भारी कमी है. उन्हें प्रोटेक्टिव सूट्स तक नहीं मिल पा रहे हैं.



डॉक्टर हर दिन मेडिकल उपकरणों की किल्लत से जूझ रहे
ब्रुकलिन हॉस्पिटल की क्षमता 370 बेड की है. लेकिन महामारी की वजह से मरीजों की संख्या काफी अधिक है. एक डॉक्टर ने बताया कि हम मेडिकल वारजोन में काम कर रहे हैं. डॉक्टर बता रहे हैं कि यहां हर दिन मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. वो रोज मेडिकल उपकरणों की किलल्त से जूझ रहे हैं. हॉस्पिटल में 100 से ज्यादा कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है. इसके अलावा 70 दूसरे मामलों के मरीज भी हैं.

डॉक्टर्स बता रहे हैं कि वेंटिलेटर्स की भारी कमी है. उन्हें प्रोटेक्टिव इक्वीपमेंट के बगैर काम करना पड़ रहा है. एक डॉक्टर ने डेली मेल को बताया कि हमें प्रार्थना की जरूरत है, समर्थन की जरूरत है, हमें मेडिकल गाउन चाहिए, हमें ग्लव्स, मास्क और वेंटिलेटर्स चाहिए. इन सब चीजों की कमी है.

डॉक्टर ने बताया कि यहां साइको सोशल सपोर्ट की जरूरत है. ये आसान नहीं है कि यहां हर दिन आकर इन सब मुश्किलों से सामना किया जाए. हॉस्पिटल के मुर्दाघर में भी जगह नहीं बची है. इसलिए मरने वालों की लाशों को हॉस्पिटल के बाहर खड़े ट्रकों में भरा जा रहा है.

न्यूयॉर्क ने चीन से खरीदे हैं वेंटिलेटर्स
न्यूयॉर्क के डॉक्टरों ने बताया है कि वो हर दिन लोगों को मरते देख रहे हैं. अमेरिका का एक भी नागरिक सुरक्षित नहीं है. वायरस का संक्रमण किसी में अंतर नहीं देख रहा है. हर उम्र के, हर सामाजिक आर्थिक पृष्ठभूमि के, हर नस्ल और धर्म के लोग संक्रमण का शिकार हो रहे हैं.

न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्र्यू कुमो ने लगातार मेडिकल हेल्प की गुहार लगाई है. वो ज्यादा वेंटिलेटर्स की मांग दोहराते रहे हैं. मंगलवार को एंड्र्यू कुमो एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में भड़क गए. उन्होंने कहा कि फेडरल गवर्नमेंट वेंटिलेटर्स की नीलामी कर रही है. ऐसा लगता है जैसे हम ई-बे पर कोई सामान खरीद रहे हों.

उन्होंने कहा कि चीन से 17 हजार वेंटिलेटर्स मंगवाए गए हैं. हर वेंटिलेटर्स के लिए 25 हजार डॉलर की रकम चुकाई गई है. कुल 425 मिलियन डॉलर खर्च किए गए हैं.

सोमवार को कोरोना वायरस के चलते न्यूयॉर्क में 332 लोगों की मौत हुई. मंगलवार को भी इसमें कमी नहीं आई. मंगलवार को पूरे अमेरिका में कोरोना के चलते 3,906 लोगों की मौत हो चुकी है. ये चीन से काफी ज्यादा है. चीन में अब तक कोरोना के चलते 3,309 लोगों की मौत हुई है.

ये भी पढ़ें:-

अमेरिका को कोरोना संकट से उबारने को बिल गेट्स ने दिया मंत्र, इन तीन खास चीजों पर जोर देने की मांग

कोरोना संकट से दोराहे पर दुनिया, आखिर पहले किसे बचाएं!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 1, 2020, 4:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading