Home /News /world /

अमेरिका के पहले अश्वेत विदेश मंत्री कोलिन पॉवेल का कोरोना के कारण निधन

अमेरिका के पहले अश्वेत विदेश मंत्री कोलिन पॉवेल का कोरोना के कारण निधन

अमेरिका के पूर्व विदेश मंत्री कोलिन पावेल. ( फाइल फोटो)

अमेरिका के पूर्व विदेश मंत्री कोलिन पावेल. ( फाइल फोटो)

अमेरिका (America) के पूर्व विदेश मंत्री व ‘ज्वाइंट चीफ्स’ के पूर्व अध्यक्ष कोलिन पावेल (Colin Powell) की कोविड-19 (COVID 19) संबंधी जटिलताओं के कारण मृत्यु हो गई. वे 84 वर्ष के थे. उनके परिवार की तरफ से सोमवार को यह जानकारी दी गई. सोशल मीडिया पर, परिवार ने बताया कि पावेल का पूर्ण टीकाकरण हो चुका था, लेकिन कुछ जटिलताओं के कारण उनकी मृत्‍यु हो गई.

अधिक पढ़ें ...

    वाशिंगटन. अमेरिका (America) के पूर्व विदेश मंत्री व ‘ज्वाइंट चीफ्स’ के पूर्व अध्यक्ष कोलिन पावेल (Colin Powell) की कोविड-19 (COVID 19) संबंधी जटिलताओं के कारण मृत्यु हो गई. वे 84 वर्ष के थे. उनके परिवार की तरफ से सोमवार को यह जानकारी दी गई. सोशल मीडिया पर, परिवार ने बताया कि पावेल का पूर्ण टीकाकरण हो चुका था, लेकिन कुछ जटिलताओं के कारण उनको नहीं बचाया जा सका. उनके परिवार ने कहा कि हमने एक शानदार और प्यार करने वाले पति, पिता, दादा और एक महान अमेरिकी को खो दिया है.

    परिवार ने कहा है कि “हम वाल्टर रीड नेशनल मेडिकल सेंटर और उसके सभी कर्मचारियों को धन्यवाद देते हैं, उन्‍होंने कोलिन पावेल की बहुत अच्‍छे से देखभाल की.” ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ के पूर्व अध्यक्ष रहे कोलिन को बुश प्रशासन के दौरान अमेरिका विदेश मंत्री बनने का अवसर मिला था. 2000 में पॉवेल की नियुक्ति के समय, तत्‍कालीन अमेरिकी राष्‍ट्रपति जार्ज डब्‍ल्‍यू बुश ने एक सैनिक के तौर पर उनकी महान अखंडता और कर्त्‍तव्‍य और सम्‍मान की भावना के लिए विशेष तौर पर सराहा था.

    ये भी पढ़ें :  अब चांद पर भी ऑल टाइम रहिए कनेक्टेड, वाई-फाई लगाने की तैयारी कर रहा NASA

    ये भी पढ़ें :  ‘मोदी फोन नहीं उठा रहे, बाइडन की नहीं आ रही कॉल…’ इमरान खान पर मरियम नवाज ने लिए मजे

    बुश ने कहा था कि कोलिन के भाषण में सच्‍चाई होती है, उनमें हमारे लोकतंत्र के प्रति गहरा सम्‍मान है और एक सैनिक के तौर पर उनके कर्त्‍तव्‍य और सम्‍मान की भावना, जो कोलिन प्रदर्शित करते हैं, ऐसे गुण उन्‍हें अमेरिका के सभी लोगों का एक महान प्रतिनिधि बना देते हैं. अमेरिकी राजनीति में कोलिन पॉवेल दशकों तक सक्रिय रहे. वे देश के पहले अश्‍वेत थे जिसे विदेश मंत्री बनने का अवसर मिला. वे अमेरिका के टॉप कमांडर भी रहे और उनकी छवि ‘वॉर हीरो’ की रही.

    हालांकि संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में भाषण को लेकर उनकी आलोचना भी हुई और वे स्‍वयं भी इसके लिए दुखी रहे. इसी भाषण के कारण इराक पर आक्रमण हुआ, सद्दाम हुसैन को हटाया गया और इस लड़ाई में हजारों लोगों की जान गई. इस भाषण में पॉवेल ने कहा था कि इराक में सामूहिक विनाश के हथियार मौजूद हैं. एबीसी न्‍यूज को 2005 में दिए गए एक इंटरव्‍यू में उन्‍होंने यह स्‍वीकारते हुए कहा था कि यह मेरे रिकॉर्ड का एक दागदार हिस्‍सा है, यह दर्दनाक था और अब भी दर्दनाक है.

    Tags: America, Colin Powell, COVID 19

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर