फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों के कार्यालय ने कहा गलतफहमी के कारण नाराज हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप

मैंक्रों के कार्यालय ने शनिवार को माना कि उनकी टिप्पणी से ‘भ्रम पैदा हो सकता है’ लेकिन जोर देकर कहा : ‘उन्होंने कभी नहीं कहा कि हमें अमेरिका के खिलाफ यूरोपीय सेना की आवश्यकता है.’

भाषा
Updated: November 10, 2018, 11:30 PM IST
फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों के कार्यालय ने कहा गलतफहमी के कारण नाराज हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप
फ्रांस के राष्ट्रपति की फाइल फोटो REUTERS
भाषा
Updated: November 10, 2018, 11:30 PM IST
फ्रांस ने राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों की यूरोपीय सेना के बारे में की गयी टिप्पणी के कारण अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नाराजगी से उपजी विवाद की स्थिति को सुलझाने के प्रयास के तहत शनिवार को कहा कि उनकी टिप्पणी की गलत व्याख्या की गई.

प्रथम विश्वयुद्ध से जुड़े समारोहों के लिये शुक्रवार की रात पेरिस पहुंचे ट्रंप ने मैक्रों की टिप्पणी को ‘बेहद अपमानजनक’ करार दिया. मैक्रों ने इस हफ्ते के शुरू में चीन और रूस के साथ अमेरिका को भी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिये खतरा करार दिया था. मैंक्रों के कार्यालय ने शनिवार को माना कि उनकी टिप्पणी से ‘भ्रम पैदा हो सकता है’ लेकिन जोर देकर कहा : ‘उन्होंने कभी नहीं कहा कि हमें अमेरिका के खिलाफ यूरोपीय सेना की आवश्यकता है.’

यह भी पढ़ें- फ्रांसीसी राष्ट्रपति के सूट से डैंड्रफ साफ करते नज़र आए ट्रंप 

विभिन्न समाचार संगठनों ने यूरोप 1 रेडियो को मंगलवार को दिये गए साक्षात्कार में की गई मैक्रों की टिप्पणी को उद्धृत किया था. मैक्रों ने कहा, ‘हम अपने साइबरस्पेस में सेंध के प्रयासों और हमारी लोकतांत्रिक जिंदगियों में हस्तक्षेप का सामना कर रहे हैं. हमें चीन, रूस और यहां तक की अमेरिका से खुद को बचाना होगा.’

यह भी पढ़ें-  रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने फ्रांस में किया राफेल मैन्युफैक्चरिंग यूनिट का दौरा
Loading...

और भी देखें

Updated: November 09, 2018 11:40 PM ISTदेखें Video जब हाईवे पर पहुंच गईं मछलियां, लगा जाम
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर