अपना शहर चुनें

States

PM मोदी से बोले जो बाइडन- लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए भारत-अमेरिका साथ काम करें

भारत के पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (PTI)
भारत के पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (PTI)

Modi-Biden Conversation: अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 से मिलकर मुकाबला करने पर सहमति जताई साथ ही जलवायु परिवर्तन पर दोनों देशों के बीच साझेदारी को नया स्वरूप देने पर प्रतिबद्धता जताई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 9, 2021, 10:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (American President Joe Biden) ने ने वैश्विक क्षेत्र पर अपने दो राष्ट्रों के साझा लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए मिलकर काम करने की प्रतिबद्धता जताई है. पिछले महीने यूएस कैपिटल में नए प्रशासन का उद्घाटन के बाद पहली बार हुई इस बातचीत में दोनों नेताओं ने जलवायु परिवर्तन, आतंकवाद और नेविगेशन की स्वतंत्रता सहित कई क्षेत्रों में निकट सहयोग जारी रखने पर सहमति व्यक्त की.

व्हाइट हाउस द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक "संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत कोविड -19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के खिलाफ लड़ाई जीतने के लिए मिलकर काम करेंगे, जलवायु परिवर्तन पर अपनी साझेदारी को नवीनीकृत करेंगे, वैश्विक अर्थव्यवस्था का पुनर्निर्माण एक तरह से करेंगे जो दोनों देशों के लोगों को लाभ पहुंचाए, और एक साथ खड़े हों और वैश्विक आतंकवाद के खिलाफ खड़े होंगे.

ये भी पढ़ें- बीजेपी ने बिहार में हासिल कर लिया 'बड़े भाई' का ओहदा



भारत-अमेरिका संबंधों को आगे ले जाने पर सहमति
बयान के मुताबिक दोनों नेता "स्वतंत्र और खुले इंडो-पैसिफिक" को सहयोग और बढ़ावा देना जारी रखेंगे, नौवहन की स्वतंत्रता और क्षेत्रीय अखंडता का समर्थन करेंगे. बयान के अनुसार, उन्होंने क्वाड के माध्यम से क्षेत्रीय वास्तुकला को मजबूत करने के लिए भी प्रतिबद्धता जताई. क्वाड या चतुर्भुज सुरक्षा संवाद अमेरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया और भारत का एक अनौपचारिक रणनीतिक मंच है.

बातचीत के दौरान बाइडन ने विश्व भर में लोकतांत्रिक संस्थानों की रक्षा करने के अपने संकल्प को रेखांकित किया और कहा कि लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति साझा प्रतिबद्धता भारत अमेरिका संबंधों का आधार है. इसमें कहा गया, “इसके अलावा दोनों नेताओं ने इस बात पर जोर दिया कि बर्मा में लोकतांत्रिक प्रक्रिया और कानून का पालन होना चाहिए. दोनों नेताओं ने कई वैश्विक मुद्दों पर बातचीत की प्रकिया को जारी रखने और आने वाले समय में भारत तथा अमेरिका के संबंधों को आगे ले जाने पर सहमति जताई.”

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए तीन नवंबर को हुए चुनाव के बाद बाइडन और मोदी के बीच फोन पर यह दूसरी बार बातचीत हुई.

ये भी पढ़ें- कीलें चीन बॉर्डर पर ठोंकनी थीं, ठोंकी सिंघु बॉर्डर पर जा रहींः LS में ओवैसी

बातचीत के बाद ये बोले पीएम मोदी 
इस बातचीत के बाद पीएम मोदी ने कहा कि वे दोनों नियमाधारित व्यवस्था के लिए कटिबद्ध हैं तथा द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने के साथ साथ हिंद-प्रशांत क्षेत्र और उससे परे शांति और सुरक्षा बढ़ाने के प्रति आशान्वित हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट में कहा कि उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति को अपनी शुभकामनाएं दीं और दोनों ने क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की एवं प्राथमिकताएं साझा कीं. उन्होंने कहा, ‘‘हम जलवायु परिवर्तन के खिलाफ सहयोग को और बढ़ाने पर सहमत हुए.’’

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘राष्ट्रपति बाइडन और मैं नियम आधारित व्यवस्था को लेकर प्रतिबद्ध हैं. हम हिंद-प्रशांत क्षेत्र और उससे बाहर शांति और सुरक्षा के वास्ते रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने के लिए तत्पर हैं.’’

प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में बाइडन की जीत के बाद भी उसने बात की थी. उस समय दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी, जलवायु परिवर्तन और हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग आदि मुद्दों पर बात की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज