Home /News /world /

UNSC में आज अफगानिस्तान का मुद्दा उठाएगा भारत, अफगानी विदेश मंत्री ने जयशंकर से की थी चर्चा करने की मांग

UNSC में आज अफगानिस्तान का मुद्दा उठाएगा भारत, अफगानी विदेश मंत्री ने जयशंकर से की थी चर्चा करने की मांग

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (फाइल फोटो)

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (फाइल फोटो)

भारत की अध्यक्षता में शुक्रवार यानी कि आज संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की बैठक में अफगानिस्तान (Afghanistan) में बदतर होती सुरक्षा स्थिति पर चर्चा की जाएगी.

    नई दिल्ली. भारत की अध्यक्षता में शुक्रवार यानी कि आज संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की बैठक में अफगानिस्तान (Afghanistan) में बदतर होती सुरक्षा स्थिति पर चर्चा की जाएगी. अफगानिस्तान पर खुली UNSC चर्चा आयोजित करने का निर्णय विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) के साथ अफगानिस्तान के विदेश मंत्री मोहम्मद हनीफ अतमार (Hanif Atmar) के बात करने के एक दिन बाद आया है, जिसमें उन्होंने अफगानिस्तान पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का आपातकालीन सत्र बुलाने पर चर्चा की थी.

    संयुक्त राष्ट्र (United Nations) में भारत के स्थायी प्रतिनिधि और अगस्त माह के लिए सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष राजदूत टी एस तिरुमूर्ति (TS Trimurti) ने बुधवार रात ट्वीट किया, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद भारत की अध्यक्षता में शुक्रवार, छह अगस्त को अफगानिस्तान में स्थिति पर चर्चा करने और उसका जायजा लेने के लिए बैठक करेगा. अतमार ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को तालिबान (Taliban) की हिंसा एवं अत्याचार के कारण अफगानिस्तान में सामने आ रही त्रासदी रोकने में बड़ी भूमिका निभानी चाहिए.

    विदेशी बलों की वापसी के बाद से युद्ध हुआ तेज
    अतमार ने ट्वीट किया, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के मौजूदा अध्यक्ष की अग्रणी भूमिका की सराहना करता हूं. अमेरिका और NATO सैनिकों का युद्धग्रस्त देश से वापस जाने की प्रक्रिया पूरी होने के साथ ही तालिबान और अफगानिस्तान के सरकारी बलों (War Between Taliban and Afghan Security Forces) के बीच लड़ाई पिछले कुछ महीनों में तेज हो गई है. इस महीने के लिए सोमवार को अपनाए गए परिषद की कार्य सूची के अनुसार अफगानिस्तान पर बैठक इस दौरान निर्धारित नहीं थी.

    भारत की अध्यक्षता के पहले हफ्ते में हो रही है अफगानिस्तान पर चर्चा
    संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में संवाददाताओं को विवरण उपलब्ध कराते हुए तिरुमूर्ति ने अफगानिस्तान में स्थिति पर और युद्धग्रस्त देश में तनाव और बढ़ने से रोकने के लिए सुरक्षा परिषद क्या कर सकता है. इसपर पूछे गए प्रश्न के उत्तर में कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अफगानिस्तान पर संभवत: सुरक्षा परिषद इस पहलू पर जल्द से जल्द गौर करेगी. ये महत्त्वपूर्ण है कि परिषद की भारत की अध्यक्षता के पहले हफ्ते के भीतर अफगानिस्तान पर खुली चर्चा हो रही है, जो अफगानिस्तान में मौजूदा स्थिति पर फौरन चर्चा की जरूरत को दर्शाती है.

    शांतिपूर्ण, लोकतांत्रिक और स्थिर अफगानिस्तान देखना चाहता है भारत
    तिरुमूर्ति ने कहा कि अफगानिस्तान में स्थिति सुरक्षा परिषद के सभी सदस्यों के लिए गहरी चिंता का विषय है और हमने हाल के दिनों में देखा है कि हिंसा केवल बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि जहां तक भारत की बात है उसने साफ तौर पर बता दिया है कि, हम स्वतंत्र, शांतिपूर्ण, लोकतांत्रिक और स्थिर अफगानिस्तान देखना चाहते हैं, भारत ने हर उस अवसर का समर्थन किया है जो अफगानिस्तान में शांति, सुरक्षा और स्थिरता ला सकता है.

    ये भी पढ़ें: भारत को जल्द मिल सकती है सिंगल डोज Corona वैक्सीन, जॉनसन एंड जॉनसन ने मांगी इजाजत

    तिरुमूर्ति ने कहा, हम आश्वस्त हैं कि … हमें हिंसा और लक्षित हमलों के सवालों का हल करना चाहिए और ये बहुत गंभीर चिंताएं हैं और सभी प्रकार की हिंसा समाप्त होनी चाहिए. अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद के साथ संबंध भी तोड़े जाने चाहिए. हम अफगानिस्तान में एक बार फिर आतंकवादी ठिकानों को बसते हुए नहीं देखना चाहते. और इसका भारत पर सीधा असर होगा.

    Tags: Afghanistan, Hindi news, International news, United nations, United Nations General Assembly, UNSC

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर