जो बाइडन ने पलटा डोनाल्ड ट्रंप का फैसला, टिकटॉक और वीचैट पर फिलहाल नहीं लगेगी रोक

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (फाइल फोटो)

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (फाइल फोटो)

WeChat and TikTok: ट्रंप ने 2020 के मध्य में टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने की कोशिशें की थीं लेकिन अमेरिकी अदालतों ने उनपर रोक लगा दी और उसके बाद राष्ट्रपति चुनाव की वजह से टिकटॉक का मुद्दा चर्चाओं से गायब हो गया. टि

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 10, 2021, 11:39 AM IST
  • Share this:

वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden ) ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Former President Donald Trump ) के एक अहम फैसले को पलट दिया है. अमेरिकी प्रशासन ने चीन की लोकप्रिय ऐप टिकटॉक और वीचेट पर फिलहाल रोक लगाने से मना कर दिया है. पिछले साल सितंबर में ट्रंप ने इन दोनों एप पर बैन लगाने का ऐलान किया था. लेकिन बाद में कोर्ट से उनके फैसले पर रोक लगा गई थी. इस दिशा में की गई पहल से संबंधित पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकारी आदेशों को वापस ले लिया और चीन के इन ऐप्लिकेशन से संबंधित राष्ट्रीय सुरक्षा खतरों की पहचान करने के लिए खुद समीक्षा करने का फैसला किया है.

व्हाइट हाउस के एक नये कार्यकारी आदेश में वाणिज्य विभाग को चीन द्वारा निर्मित, नियंत्रित या आपूर्ति किए जाने वाले ऐप से जुड़े लेन-देन का 'प्रमाण आधारित' विश्लेषण करने का निर्देश दिया गया है. अधिकारी खासतौर पर उन ऐप्लिकेशन को लेकर चिंतित है जो लोगों के निजी डेटा जमा करते हैं और जिनके चीनी सेना या खुफिया गतिविधियों से संबंध हैं.

ये भी पढ़ें:- मुंबई में अगले तीन दिनों तक हो सकती है भारी बारिश, हाई टाइड का भी खतरा

अमेरिकी प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार विभाग अमेरिकियों के आनुवंशिक या निजी स्वास्थ्य सूचना की बेहतर सुरक्षा के तरीकों को लेकर सिफारिशें भी देगा और चीन या दूसरे विरोधी देशों से जुड़े कुछ सॉफ्टवेयर ऐप्लिकेशन के खतरों पर ध्यान देगा.जो बाइडेन प्रशासन के इस फैसले से अमेरिका की उस मौजूदा चिंता का पता चलता है कि चीन से जुड़े लोकप्रिय ऐप के पास अमेरिकियों के निजी डेटा हो सकते हैं.


बता दें कि ट्रंप ने 2020 के मध्य में टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने की कोशिशें की थीं लेकिन अमेरिकी अदालतों ने उनपर रोक लगा दी और उसके बाद राष्ट्रपति चुनाव की वजह से टिकटॉक का मुद्दा चर्चाओं से गायब हो गया. टिकटॉक का दावा है कि अमेरिका में उसके करीब 10 करोड़ एक्टिव यूजर्स हैं, जिसका एक बड़ा हिस्सा युवाओं का है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज