लाइव टीवी

दवा के साइड इफेक्ट से ब्रेस्ट जैसी हो गई लड़के की छाती, फार्मा कंपनी पर लगा 56 हजार करोड़ का जुर्माना

News18Hindi
Updated: October 9, 2019, 6:20 PM IST
दवा के साइड इफेक्ट से ब्रेस्ट जैसी हो गई लड़के की छाती, फार्मा कंपनी पर लगा 56 हजार करोड़ का जुर्माना
फार्मा कंपनी पर लगा 56 हजार करोड़ का जुर्माना (प्रतीकात्मक तस्वीर)

फिलाडेल्फिया कोर्ट (Philadelphia Court) ने माना कि इस दवा के कारण मैरिलैंड के रहने वाले शख्स निकोलस मर्रे (Nicholas Murray) की चेस्ट महिलाओं की ब्रेस्ट की तरह बढ़ गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 9, 2019, 6:20 PM IST
  • Share this:
न्ययॉर्क. अमेरिका (America) के न्यू जर्सी (New Jersey) में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है. यहां दवा (Medicine) के साइड इफेक्ट से एक युवक के स्तन महिलाओं जैसे बढ़ गए. कोर्ट (Court) ने मंगलवार को इस मामले में दवा कंपनी पर 56,000 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है. कोर्ट ने कहा कि फार्मा कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन (Johnson & Johnson) ने दवा बेचने से पहले युवक को नहीं बताया कि इसके इस्तेमाल से चेस्ट का आकार बढ़ सकता है.

नॉर्थजर्सी.कॉम की खबर के मुताबिक, संयुक्त राज्य स्थित फिलाडेल्फिया कोर्ट (Philadelphia Court) ने माना कि जॉनसन एंड जॉनसन फार्मा कंपनी ‘Janssen Pharmaceuticals, Risperdal (एक प्रकार की दवा)’ को अवैध तरीके से बाजार में बेच रही है और इसके गंभीर परिणाम हो रहे हैं. कोर्ट ने माना कि इस दवा के इस्तेमाल के कारण मैरिलैंड के रहने वाले शख्स निकोलस मर्रे (Nicholas Murray) की चेस्ट महिलाओं की ब्रेस्ट की तरह बढ़ गई.

फार्मा कंपनी पर लगा 56 हजार करोड़ का जुर्माना
निकोलस ने आरोप लगाया था कि Risperdal दवा का इस्तेमाल करने से उसके स्तनों का साइज बढ़ गया और उसे स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. युवक ने इस मामले में कोर्ट में शिकायत की थी और मामला दर्ज कराया था. कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद कंपनी पर 56,000 करोड़ रुपये (8 बिलियन डॉलर) का जुर्माना लगाया है. कोर्ट ने कहा कि कंपनी याचिकाकर्ता के आरोपों को गलत साबित करने में असफल रही है, जिससे यह साबित होता है कि युवक के आरोप में सही हैं.

कंपनी पर लगा 56 हजार करोड़ का जुर्माना


कंपनी ने दवा से साइड इफेक्ट की बात से किया इनकार
Risperdal दवा को लेकर यह पहला ट्रायल था जिसपर ज्यूरी ने यह तय किया कि नुकसान की भरपाई के लिए कितनी रकम होनी चाहिए. हालांकि, कंपनी ने अपने प्रोडक्ट में किसी भी तरह के साइड इफेक्ट के होने की बात से नकारा है. उन्होंने कहा कि हमारे प्रोडेक्ट में ड्रग नहीं है और न ही इस कैमिकल से किसी शख्स के स्तनों का आकार बड़ा हो सकता है. शिकायत करने वाला शख्स इससे पहले भी साल 2018 में कंपनी के खिलाफ एक अन्य मामले में 680,000 डॉलर की राशि का मुवाअजा ले चुका है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 5:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...