अपना शहर चुनें

States

अमेरिका में शक्ति का नया केंद्र बनकर उभरी हैं कमला हैरिस

अमेरिका की नवनिर्वाचित उप राष्ट्रपति कमला हैरिस.
अमेरिका की नवनिर्वाचित उप राष्ट्रपति कमला हैरिस.

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के पहले दिन के कार्यक्रम की सूची को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि हैरिस (Kamala Harris) की भूमिका व्हाइट हाउस की राजनीति में कितनी अहम है. लगातार अमेरिकी मीडिया में सुर्खियां बटोरने वाली हैरिस वाशिंगटन के नए पावर सेंटर के रूप में भी उभरती दिख रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2021, 1:32 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. भारतीय मूल की कमला हैरिस (Kamala Harris) ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) के साथ उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेकर इतिहास रच दिया है. कमला हैरिस न केवल अमेरिका के उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेने वाली पहली महिला हैं बल्कि वे इस पद तक पहुंचने वाली पहली अश्वेत भी हैं. इतना ही नहीं अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के पहले दिन के कार्यक्रम की सूची को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि हैरिस की भूमिका व्हाइट हाउस की राजनीति में कितनी अहम है. लगातार अमेरिकी मीडिया में सुर्खियां बटोरने वाली हैरिस वाशिंगटन के नए पावर सेंटर के रूप में भी उभरती दिख रही हैं.

खुद बाइडन कह चुके हैं-जिम्मेदारी संभालने को तैयार रहें हैरिस
व्हाइट हाउस में आयोजित होने वाले राष्ट्रपति के पहले दिन के सबसे अहम कार्यक्रम ज्वाइंट इंटेलिजेंस ब्रीफिंग में भी कमला हैरिस जो बाइडन के साथ मौजूद रहीं. जो बाइडन खुद भी कई बार कह चुके हैं कि जरूरत पड़ने पर हैरिस को ओवल ऑफिस (राष्ट्रपति के काम करने के लिए औपचारिक दफ्तर) में जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार रहना चाहिए. हैरिस की शक्ति का उस वक्त भी पता चला जब सीनेट में उनके साथियों ने खड़े होकर अभिवादन किया. कमला हैरिस सीनेट की पहली महिला प्रेसिडेंट भी हैं.

हैरिस के हाथों में होगी ट्रंप पर कार्यवाही
साथ ही अब हैरिस के हाथों में ही डोनाल्ड ट्रंप के महाभियोग की कार्यवाही भी होगी. सामान्य तौर पर राष्ट्रपति के खिलाफ सीनेट की महाभियोग कार्रवाई सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के हाथों में होती है. लेकिन अब ट्रंप पूर्व राष्ट्रपति हो चुके हैं. साथ ही चीफ जस्टिस जॉन रॉबर्ट्स ने दूसरी बार ट्रंप की महाभियोग कार्रवाई हाथ में लेने से अनिच्छा जताई है. ऐसे में ट्रंप पर कार्रवाई अब हैरिस के हाथों में होगी.





भारतीय-अफ्रीकी मूल के लोगों में लोकप्रियता बरकरार रखना चाहेंगी हैरिस
बाइडन की जीत में कमला हैरिस की लोकप्रियता की बड़ी भूमिका रही है. हैरिस की भारतीय-अफ्रीकी जड़ों ने अश्वेत और भारतीय मतदाताओं को डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ एकमुश्त जोड़ा. माना जा रहा है कि भविष्य में अपने फैसलों से हैरिस इस समुदाय को अपनी तरफ जोड़े रखने का काम करेंगी. विदेश नीति के मामलों में भी हैरिस की महत्वपूर्ण भूमिका दिखाई देने वाली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज