यौन उत्पीड़न मामले में कावानाह ने कहा- सम्मान बचाने के लिए चाहते हैं निष्पक्ष जांच

यौन उत्पीड़न मामले में कावानाह ने कहा- सम्मान बचाने के लिए चाहते हैं निष्पक्ष जांच
ब्रेट कावानाह

डेमोक्रेट पार्टी इस मामले की जांच एफबीआई से कराने की मांग कर रही है. लेकिन रिपब्लिकन पार्टी और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इनकार कर रहे हैं.

  • भाषा
  • Last Updated: September 25, 2018, 11:03 AM IST
  • Share this:
यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के जज के पद के उम्मीदवार ब्रेट कावानाह ने सोमवार को कहा कि वह चाहते हैं कि निष्पक्ष प्रक्रिया से जांच हो ताकि वो अपने सम्मान की रक्षा कर सकें.

कावानाह ने सोमवार दिए गए एक इंटरव्यू में कहा, ‘‘मैं एक निष्पक्ष प्रक्रिया के इंतजार में हूं, ऐसी प्रक्रिया जिससे मैं अपने सम्मान की रक्षा कर सकूं और मेरा नाम बेदाग साबित हो सके. मैं सिर्फ निष्पक्षता की मांग कर रहा हूं और इस प्रक्रिया में मुझे सुना जाए.’’ इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कावानाह और उनकी पत्नी एश्ली ने अपना इंटरव्यू दिया.

ये भी पढ़ेंः कावानाह पर फिर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप, व्हाइट हाउस समर्थन में



यौन उत्पीड़न के आरोप सामने आने के बाद यह कावानाह का पहला इंटरव्यू था. पिछले 10 दिनों में दो महिलाओं ने सामने आकर आरोप लगाया है कि कावानाह ने 36 साल और 25 साल पहले उनका यौन शोषण किया था.
कावानाह ने कहा, ‘‘मैंने किसी का यौन शोषण नहीं किया, न तो हाई स्कूल में और न ही किसी और समय. मैंने हमेशा महिलाओं को सम्मान दिया है.’’

कावानाह और उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली पहली महिला क्रिस्टीन ब्लेजी फोर्ड को गुरुवार को सीनेट की न्यायपालिका समिति के सामने पेश होकर अपना बयान दर्ज कराना है. डेमोक्रेट पार्टी इस मामले की जांच एफबीआई से कराने की मांग कर रही है. लेकिन रिपब्लिकन पार्टी और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सुप्रीम कोर्ट के जज पद के लिए नामित अपने उम्मीदवार कावानाह के खिलाफ एफबीआई जांच कराने से इनकार कर रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः ट्रंप ने यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे कावानाह् का किया बचाव

इससे पहले, दिन में ट्रंप ने उम्मीद जताई कि कावानाह की नियुक्ति जल्द ही पक्की हो जाएगी. ट्रंप ने न्यूयॉर्क में पत्रकारों को बताया, ‘‘हमें उम्मीद है कि उनकी नियुक्ति जल्द ही पक्की हो जाएगी. वह एक भले इंसान हैं. काफी विद्वान हैं और उन्होंने जो कुछ किया है उसमें काफी बेहतर किया है. यदि कुछ उल्टा होता है तो यह बहुत दुखद होगा.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज