सेना के साथ इमरान की है गहरी साठगांठ, चुनाव में हेरफेर कर नवाज शरीफ को हराया- अमेरिकी रिपोर्ट

सीआरएस (CRS) अमेरिकी कांग्रेस (American Congress) की एक स्वतंत्र अनुसंधान शाखा है जो सांसदों के लिए रिपोर्ट तैयार करती है.

भाषा
Updated: August 29, 2019, 2:25 PM IST
सेना के साथ इमरान की है गहरी साठगांठ, चुनाव में हेरफेर कर नवाज शरीफ को हराया- अमेरिकी रिपोर्ट
सीआरएस (CRS) अमेरिकी कांग्रेस (American Congress) की एक स्वतंत्र अनुसंधान शाखा है जो सांसदों के लिए रिपोर्ट तैयार करती है.
भाषा
Updated: August 29, 2019, 2:25 PM IST
अमेरिकी कांग्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के तौर पर इमरान खान के कार्यकाल में पाकिस्तानी सेना देश की विदेश और सुरक्षा नीतियों पर हावी रही है. द्विदलीय कांग्रेशनल रिसर्च सर्विस (सीआरएस) द्वारा अमेरिकी सांसदों के लिए तैयार रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रधानमंत्री पद का चुनाव जीतने से पहले खान को शासन का कोई अनुभव नहीं था और विश्लेषकों का कहना है कि पाकिस्तान की सुरक्षा सेवाओं ने नवाज शरीफ को हटाने के लिए चुनाव के दौरान घरेलू राजनीति से छेड़छाड़ की.

रिपोर्ट में कहा गया है कि 'नया पाकिस्तान'संबंधी खान की सोच कई युवाओं, शहरी लोगों और मध्यम वर्ग के मतदाताओं को लुभाती है. उनकी यह सोच भ्रष्टाचार विरोधी, बेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराने वाले एक 'कल्याणकारी देश'के निर्माण पर जोर देती है, लेकिन देश में गंभीर वित्तीय संकट और विदेश से और उधार लेने की आवश्यकता के कारण उनके प्रयास रंग नहीं ला रहे हैं.

यह भी पढ़ें:   राजनाथ सिंह बोले- कश्मीर कब पाकिस्तान का था, जो रोते रहते हो

सेना रही हावी

उसने कहा, 'अधिकतर विश्लेषकों को लगता है कि पाकिस्तान का सैन्य प्रतिष्ठान विदेश और सुरक्षा नीतियों पर लगातार हावी रहा है.'

सीआरएस अमेरिकी कांग्रेस की एक स्वतंत्र अनुसंधान शाखा है जो सांसदों के लिए रिपोर्ट तैयार करती है.

सीआरएस के अनुसार कई विश्लेषकों का दावा है कि पाकिस्तान की सुरक्षा सेवाओं ने नवाज शरीफ को सत्ता से हटाने और उनकी पार्टी को कमजोर करने के मकसद से चुनाव के दौरान और उससे पहले देश की घरेलू राजनीति से छेड़छाड़ की. खान की पार्टी का समर्थन करने के लिए कथित रूप से 'सेना-न्यायपालिका ने साठगांठ'की.
Loading...

यह भी पढ़ें:  कश्मीर पर UN को लिखी पाक की चिट्ठी में खट्टर का भी जिक्र

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 12:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...