होम /न्यूज /दुनिया /NASA ने शेयर की Solar Flare की हैरान करने वाली तस्वीर, बताया क्या होता है धरती पर असर

NASA ने शेयर की Solar Flare की हैरान करने वाली तस्वीर, बताया क्या होता है धरती पर असर

नासा ने सोलर फ्लेयर की चौंकाने वाली फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की है.

नासा ने सोलर फ्लेयर की चौंकाने वाली फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की है.

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी NASA ने सूरज के सतह से निकलते सोलर फ्लेयर्स के फोटो अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की है. इसके ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

NASA ने शेयर की सोलर फ्लेयर की हैरान करने वाली तस्वीर
नासा की सोलर डायनेमिक ऑब्जर्वेटरी ने कैद की घटना
अंतरिक्ष एजेंसी ने सोलर फ्लेयर से धरती पर होने वाले असर के बारे में भी जानकारी दी

न्यूयॉर्क. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी NASA ने सूरज के सतह से निकलते सोलर फ्लेयर्स की खूबसूरत फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की है. नासा ने रविवार को उस क्षण को कैद किया जब सूर्य ने अंतरिक्ष में ऊर्जा का एक शक्तिशाली विस्फोट किया. नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन ने जानकारी देते हुए बताया कि 2 अक्टूबर को सूर्य से एक तेज सोलर फ्लेयर निकली.  नासा की सोलर डायनेमिक ऑब्जर्वेटरी इस घटना की एक तस्वीर लेने में कामयाब रही.

नासा ने अपने पोस्ट में लिखा, ‘अंतरिक्ष में लगातार कई घटनाएं होती रही है. सोलर डायनेमिक्स ऑब्जर्वेटरी ने सोलर फ्लेयर्स  को कैप्चर किया है.’

क्या होते हैं सोलर फ्लेयर्स

सोलर फ्लेयर्स सूर्य की सतह से निकलने वाली चुंबकीय ऊर्जा के रेडियेशन होते हैं. इन ज्वालामुखियों और सौर विस्फोटों में रेडियो संचार, विद्युत शक्ति ग्रिड, जीपीएस को प्रभावित करने की क्षमता होती है. यह अंतरिक्ष यान और अंतरिक्ष यात्रियों के लिए जोखिम भी पैदा कर सकता हैं. सोलर फ्लेयर्स सूरज की सतह पर दिखने वाले ब्राइट एरिया होते हैं. यह कुछ मिनटों से लेकर घंटों तक दिखाई दे सकते है.

https://www.instagram.com/p/CjQxc5juMUv/?igshid=YmMyMTA2M2Y=

ये भी पढ़ें:  NASA: गाजियाबाद के अजय ने बनाया अंतरिक्ष यात्रियों का खाना, पिता ने PM मोदी से की ये मांग

अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि 2 अक्टूबर को कैप्चर किए गए सोलर फ्लेयर को “X1 फ्लेयर” के रूप में क्लासिफाइ किया गया है. नासा ने बताया कि एक्स-क्लास सबसे तीव्र फ्लेरेस को दर्शाता है, जबकि संख्या, जो अधिकतम नौ तक पहुंचती है वो फ्लेयर के बारे में ज्यादा जानकारी देती है. अप्रैल में भी नासा ने अपने सोलर डायनेमिक्स ऑब्जर्वेटरी के जरिए सोलर फ्लेयर के इमेज को कैप्चर करने में सफलता हासिल की थी. सोलर फ्लेयर का इंसानों पर नकारात्मक रूप से प्रभावित नहीं पड़ता है. वे केवल मैग्नेटिक के रिलीज करने से टेक्नोलॉजी पर असर डालता है.

Tags: Nasa, Solar system

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें