होम /न्यूज /दुनिया /

उत्तर कोरिया ने परमाणु वार्ता को बताया बेनतीजा, US ने कहा- अच्छी रही बातचीत

उत्तर कोरिया ने परमाणु वार्ता को बताया बेनतीजा, US ने कहा- अच्छी रही बातचीत

उत्तर कोरिया ने आरोप लगाया कि अमेरिका की वजह से बेनतीजा रही परमाणु वार्ता

उत्तर कोरिया ने आरोप लगाया कि अमेरिका की वजह से बेनतीजा रही परमाणु वार्ता

उत्तर कोरिया (North Korea) ने आरोप लगाया कि यह बैठक बेनतीजा अमेरिका (America) की वजह से समाप्त हुई, क्योंकि उन्होंने अपना पुराना रुख और रवैया अपनाए रखा.

    हेल्सिंकी. उत्तर कोरिया (North Korea) के प्रमुख वार्ताकार किम म्योंग गिल ने कहा कि अमेरिका (America) के साथ परमाणु वार्ता (Nuclear Talks) बेनतीजा रही. वहीं वाशिंगटन का कहना है कि दोनों पक्षों के बीच स्वीडन में अच्छी बातचीत हुई है. किम मायोंग गिल ने कहा कि स्टॉकहॉम में शनिवार को हुई वार्ता उम्मीद के मुताबिक नहीं रही और बेनतीजा ही समाप्त हो गई. मैं इससे बेहद निराश हूं.’

    उत्तर कोरियाई (North Korea) दूतावास के बाहर उन्होंने आरोप लगाया कि यह बेनतीजा अमेरिका (America)  की वजह से समाप्त हुई, क्योंकि उन्होंने अपना पुराना रुख और रवैया अपनाए रखा. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन के बीच फरवरी में वियतनाम में हुई वार्ता के बेनतीजा रहने के बाद शनिवार को दोनों देशों के बीच पहली बार इस मामले को लेकर बातचीत हुई. फरवरी की वार्ता के बाद हालांकि ट्रंप और किम ने कोरयाई सीमा पर अचानक जून में मुलाकात की थी.

    साढे आठ घंटे चली बैठक
    उत्तर कोरिया ने अपने मिसाइल और अन्य हथियारों के परीक्षण शुरू कर दिए हैं. करीब तीन साल बाद बुधवार को उसने एक मिसाइल का प्रक्षेपण किया, जो शायद पनडुब्बी से दागी गई बैलिस्टिक मिसाइल थी. अमेरिकी विदेश विभाग की प्रवक्ता मॉर्गन ऑर्टगस ने कहा कि किम की टिप्पणियां साढ़े आठ घंटे से अधिक चली अच्छी वार्ता की "विषय-वस्तु या भावना को प्रतिबिंबित नहीं" करती. उन्होंने बताया कि अमेरिका ने चर्चा जारी रखने के लिए दो सप्ताह में स्टॉकहोम वापस आने के लिए स्वीडन का निमंत्रण स्वीकार कर लिया है.

    उत्तर कोरिया का कड़ा रुख सही- गिल
    उत्तर कोरिया के वार्ताकार किम ने कहा कि कोरिया ने दिसंबर तक वार्ता निलंबित करने का प्रस्ताव रखा है. किम मायोंग गिल ने स्टॉकहोम बैठक के दौरान कहा कि उत्तर कोरिया ने यह स्पष्ट कर दिया है दोनों देश उत्तर कोरिया द्वारा परमाणु निरस्त्रीकरण के अगले कदमों पर तभी चर्चा कर सकते हैं, यदि अमेरिका उत्तर कोरिया द्वारा इससे पहले किए गए उपायों, जिनमें परमाणु और लंबी दूरी की मिसाइलों के परीक्षण पर रोक और अपने भूमिगत परमाणु परीक्षण स्थल को बंद करना शामिल है, पर ईमानदारी से जवाब देता है." उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया का रुख व्यावहारिक और उचित है.

    Tags: America, Donald Trump, Kim Jong Un, North Korea, Washington

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर