• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • AMERICA PFIZER TO SEEK US FDA APPROVAL FOR COVID VACCINE IN USE FOR 2 TO 11 YEAR OLD CHILDREN CORONAVIRUS

2 से 11 साल की उम्र के बच्‍चों के लिए भी वैक्‍सीन के इस्‍तेमाल की मंजूरी मांग सकती है फाइजर

फाइजर अनुमति के लिए कर सकती है अप्‍लाई. (File pic)

Corona Vaccine: फाइजर (Pfizer) की ओर से इस दौरान यह भी जानकारी दी गई कि वह 16 साल से 85 साल के लोगों में अपनी वैक्‍सीन के इस्‍तेमाल के लिए भी इसी महीने पूर्ण मंजूरी के लिए भी अप्‍लाई करने पर विचार कर रही है.

  • Share this:
    वॉशिंगटन. अमेरिका (United States) की दवा निर्माता कंपनी फाइजर (Pfizer) अपनी कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) का आपातकालीन इस्‍तेमाल 2 साल से 11 साल की उम्र तक के बच्‍चों पर करने की अनुमति मांग सकती है. इसके लिए वह सितंबर में फूड एंड ड्रग एडमिनिस्‍ट्रेशन (FDA) के पास अपनी एप्‍लीकेशन भेज सकती है. कंपनी ने ये जानकारी मंगलवार को वॉल स्‍ट्रीट विश्‍लेषकों और मीडिया को दी.

    कंपनी की ओर से इस दौरान यह भी जानकारी दी गई कि वह 16 साल से 85 साल के लोगों में अपनी वैक्‍सीन के इस्‍तेमाल के लिए भी इसी महीने पूर्ण मंजूरी के लिए भी अप्‍लाई करने पर विचार कर रही है. इसके साथ ही कंपनी ने यह भी कहा है कि अगस्‍त की शुरुआत तक गर्भवती महिलाओं पर उसकी कोरोना वैक्‍सीन की सुरक्षा को लेकर क्‍लीनिकल डाटा आने की संभावना है.

    एफडीए द्वारा 12 साल से लेकर 15 साल तक के बच्‍चों पर फाइजर के कोविड-19 टीके को अगले सप्ताह मंजूरी दिए जाने की संभावना है. कंपनी का टीका 16 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए पहले ही मंजूर किया जा चुका है. हालांकि कंपनी ने पाया कि उसका टीका छोटे बच्चों पर भी कारगर है, जिसके महज एक महीने बाद यह घोषणा हुई है.

    अमेरिका में युवाओं को फाइजर और बायोएनटेक की संयुक्‍त कोरोना वैक्‍सीन लगाई जा रही है. इसकी आपातकालीन इस्‍तेमाल की मंजूरी पिछले साल दिसंबर में दी गई थी. अगर एफडीए की ओर से पूर्ण मंजूरी मिलती है तो ऐसे में कंपनियां सीधे बाजार में लोगों को वैक्‍सीन बेच सकेंगी. हालांकि इसकी मंजूरी प्रक्रिया पूरी होने में कुछ महीने लग सकते हैं.

    भारत में संक्रमण की स्थिति बिगड़ने के बीच कई देशों में हालात सुधरे हैं. अमेरिका में अक्टूबर के बाद से पहली बार रोजाना के मामले कम होकर औसतन 50,000 से नीचे पहुंच गए हैं. परिवहन सुरक्षा प्रशासन के अनुसार, अमेरिकी हवाईअड्डा जांच केंद्र में करीब 16.7 लाख लोगों की जांच हुई जो पिछले साल मध्य-मार्च के बाद से सर्वाधिक है.