21 साल तक उस जुर्म की सजा काटी जो 17 साल पहले कोई और कबूल कर चुका था, अब हुआ रिहा

रिपोर्ट के मुताबिक, मिलर के लिए यह आसान रास्ता नहीं था. मिलर ने अपनी रिहाई के लिए 10 से अधिक अपीलें दायर कीं, जिन्हें अस्वीकार कर दिया गया था.

News18Hindi
Updated: August 2, 2019, 12:12 PM IST
21 साल तक उस जुर्म की सजा काटी जो 17 साल पहले कोई और कबूल कर चुका था, अब हुआ रिहा
रिपोर्ट के मुताबिक, मिलर के लिए यह आसान रास्ता नहीं था. (Jose F. Moreno/The Philadelphia Inquirer via AP)
News18Hindi
Updated: August 2, 2019, 12:12 PM IST
अमेरिकी शहर फिलाडेल्फिया में एक अनोखा मामला सामने आया है. यहां एक शख्स ने 21 साल तक उस हत्या के मामले में सजा काटी जो उसने की ही नहीं थी. इतना ही नहीं इसी मामले में 17 साल पहले एक शख्स अपना जुर्म कबूल कर चुका था. 21 साल बाद शख्स को रिहा किया गया.

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार सीबीएस फिलाडेल्फिया ने बताया कि जॉन मिलर को 1998 में पार्किंग लॉट अटेंडेंट एंथनी मिलन की गोली लगने से मौत के मामले में दूसरी डिग्री की हत्या का दोषी पाया गया था.

उन्हें आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी. रिपोर्ट के अनुसार, मिलर के खिलाफ गवाही देने वाले एक ही आदमी ने 17 साल पहले उसने कबूल कर लिया कि वह वास्तव में हत्या उसने की थी, न कि मिलर ने. 44 साल के मिलर बुधवार को रिहा होने के बाद खुश नजर आए.

यह भी पढ़ें:  अमेरिका-चीन ट्रेड वॉर से भारत को फायदा, बढ़ा निर्यात

डिनर करने के लिए उत्साहित 

मिलर ने कहा- 'जैसे ही मैंने दरवाज़े से बाहर कदम रखा मैं बस देखा गया था - बस ऊपर देखता गया और आभारी था कि भगवान ने मेरे लिए क्या किया है.'

रिपोर्ट के मुताबिक, मिलर के लिए यह आसान रास्ता नहीं था. मिलर ने अपनी रिहाई के लिए 10 से अधिक अपीलें दायर कीं, जिन्हें अस्वीकार कर दिया गया था.
Loading...

लेकिन फिर साल 2009 में, उन्होंने पेंसिल्वेनिया इनोसेंस प्रोजेक्ट के साथ संपर्क किया.

उनके वकील टॉम गैलाघेर ने बताया, 'कभी-कभी सिस्टम के लोग वास्तव में वैध दावे पर चुप रह जाते हैं और हमने बहुत मेहनत की है.  पेपर हैमिल्टन और पेंसिल्वेनिया इनोसेंस प्रोजेक्ट एक साथ काम कर रहे हैं, बस जॉन मिलर को सुनने का मौका दिया जा रहा है.'

जेल से रिहा होने के बाद मिलर ने कहा, वह डिनर करने के लिए उत्साहित है. मिलर ने कहा- 'मुझे अच्छा लग रहा है यह मेरे लिए आश्चर्यजनक है. मैं वास्तव में बहुत खुश हूं.'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 2, 2019, 12:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...