लाइव टीवी

टॉप अमेरिकी डॉक्टर बोले- हम कभी नॉर्मल नहीं हो पाएंगे, कोरोना का खतरा बना रहेगा

News18Hindi
Updated: April 7, 2020, 4:02 PM IST
टॉप अमेरिकी डॉक्टर बोले- हम कभी नॉर्मल नहीं हो पाएंगे, कोरोना का खतरा बना रहेगा
अमेरिका के टॉप के संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ एंथनी फौसी ने कहा है कि हम अब कभी नॉर्मल नहीं हो पाएंगे.

अमेरिका (America) के टॉप के कोरोना वायरस (Coronavirus) एक्सपर्ट डॉक्टर ने कहा है कि अब संक्रमण से पहले वाली दुनिया को हम नहीं देख पाएंगे, खतरा हमेशा बना रहेगा.

  • Share this:
वाशिंगटन: अमेरिका (America) के कोरोना वायरस (Coronavirus) एक्सपर्ट डॉक्टर ने कहा है कि कोरोना की वजह से अब दुनिया पहले जैसी नहीं रह जाएगी. उन्होंने कहा है कि 4 महीने पहले कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलने से पहले जैसी दुनिया थी, अब वो लौटकर नहीं आने वाली. जिसे नॉर्मल कहा जाता है, वैसी दुनिया अब नहीं रहने वाली है. अमेरिका में कोरोना वायरस की वजह से 11 हजार मौतें हो चुकी हैं.

अमेरिका में संक्रमण रोग विशेषज्ञ डॉक्टर एंथनी फौसी ने व्हाइट में एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान एक सवाल के जवाब में ये बातें कहीं. अमेरिका में सोमवार शाम तक वायरस संक्रमण के 3 लाख 68 हजार 254 मामले सामने आ चुके हैं. अमेरिका के न्यूयॉर्क, मिशिगन और लुसियाना में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले सामने आए हैं.

अमेरिका में संक्रमण का सबसे बुरा दौर अभी आना बाकी
अमेरिका कोराना वायरस के संक्रमण के चरम पर पहुंचने वाला है. एक्सपर्ट बता रहे हैं कि 16 अप्रैल तक अमेरिका में कोरोना वायरस का संक्रमण अपने शिखर पर होगा. इस दौरान हर दिन करीब 3 हजार मौतें होंगी.



अमेरिका में आने वाले दिन काफी भयावह रहने वाले हैं. अमेरिका में कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर व्हाइट हाउस में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान टॉप के संक्रमण रोग विशेषज्ञ डॉक्टर एंथनी फौसी से एक रिपोर्टर ने सवाल किया कि अमेरिका में कब तक हालात नॉर्मल हो पाएंगे?



इस सवाल के जवाब में डॉक्टर एंथनी ने कहा कि अगर नॉर्मल होने का मतलब ये है कि उस स्थिति में पहुंच जाना, जहां हमें लगे कि कोरोना वायरस एक प्रॉब्लम था ही नहीं, तो मुझे लगता है कि ऐसा वक्त अब नहीं आने वाला है. खासकर ऐसा तब तक नहीं होगा, जब तक हम ऐसे हालात नहीं बना लेते, जिसमें हमारी पूरी आबादी संक्रमण से सुरक्षित हो.

अमेरिका में वायरस के संक्रमण से बने गंभीर हालात
डॉ एंथनी फौसी ने कहा कि अगर हम पुरानी नॉर्मल स्थिति में लौटने की बात कहते हैं तो हमारा मतलब आज के हालात से बिल्कुल अलग होता है, जो कुछ आज हम झेल रहे हैं, क्योंकि हम बेहद गंभीर संकट के दौर से गुजर रहे हैं. हम धीरे-धीरे उस पॉइंट तक पहुंचेंगे, जहां हम एक समाज की तरह काम कर रहे होंगे. अगर आप कोरोना वायरस के संक्रमण के पहले वाले वक्त में जाना चाहते हैं, वैसे दौर की बात कर रहे हैं तो ऐसा कभी नहीं होने वाला है. क्योंकि कोरोना का खतरा बना रहेगा.

इसके पहले फौसी ने संभावना जताई थी कि कोरोना वायरस का संक्रमण हर साल लौटकर आता रहेगा. हालांकि सोमवार को उन्होंने कुछ सकारात्मकता दिखाई. कोरोना से निपटने के लिए जिस तरह की थिरेपी और वैक्सीन बनाए जाने का कार्यक्रम पाइपलाइ में है, उसपर डॉक्टर फौसी ने अच्छी प्रतिक्रिया दी है.

डॉक्टर फौसी ने कहा कि वो विज्ञान की प्रगति पर आशान्वित हैं और जिस तरह की तैयारी चल रही है, उसमें वो कह सकते हैं कि जो कुछ हमें मौजूदा वक्त में झेलना पड़ रहा है, वो आगे नहीं झेलना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि अगर आप इसे नॉर्मल होना कहते हैं तो हम लोग नॉर्मल हो पाएंगे.

ये भी पढ़ें:

कोरोना वायरस: आखिर मलेरिया की इस दवा के पीछे क्यों पड़े हैं ट्रंप? जानें वजह

क्या मौत के बाद बनी रहती है आत्मा? मौत से जुड़ी 7 नई बातें

दस्ताने पहनने के बावजूद कैसे तेज़ी से फैल सकते हैं जर्म्स?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 7, 2020, 4:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading