Home /News /world /

यूक्रेन संकट पर अमेरिका ने पुतिन को दिए 2 ऑप्शन, कहा- बातचीत चुनिए या तबाही

यूक्रेन संकट पर अमेरिका ने पुतिन को दिए 2 ऑप्शन, कहा- बातचीत चुनिए या तबाही

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (AP)

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (AP)

Ukraine Tension Update: बाइडन प्रशासन ने साफ कर दिया कि रूस के यूक्रेन में पीछे हटने तक कोई समझौता नहीं होगा. बाइडन प्रशासन ने कहा, 'अगर रूस पीछे नहीं हटा तो अमेरिका यूरोप में अपनी रणनीतिक उपस्थिति में बढ़ोतरी करेगा. वहीं, अगर रूस पीछे हटता है, तो बाइडन प्रशासन यूक्रेन में मिसाइलों की तैनाती और पूर्वी यूरोप में नाटो के सैन्य अभ्यासों में कमी लाने पर रूस के साथ चर्चा के लिए तैयार है.'

अधिक पढ़ें ...

    वॉशिंगटन/मॉस्को. यूक्रेन के मुद्दे पर अमेरिका और रूस आमने सामने हैं. अमेरिका (America) और यूरोप ने रूस (Russia) पर अपने पड़ोसी यूक्रेन (Ukraine Crisis) पर हमले के लिए तैयारी का आरोप लगाया है. जिसके बाद अमेरिका और रूसी राजनयिक तनाव को कम करने की कोशिश में स्विट्जरलैंड में मिल रहे हैं. इस मुलाकात से पहले अमेरिका ने रूस को साफ तौर पर धमकी दे दी है. यूक्रेन संकट को लेकर अमेरिका ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) से बातचीत या टकराव में किसी एक को चुनने को कहा है, क्योंकि रूसी सैनिक उसकी सीमाओं पर बड़े पैमाने पर बने हुए हैं.

    मॉस्को की मांगों पर चर्चा के लिए सोमवार की औपचारिक बातचीत से पहले रविवार शाम को अमेरिका और रूस के वरिष्ठ राजनयिकों और सैन्य अधिकारियों ने जिनेवा में वर्किंग डिनर का आयोजन किया. बैठक से पहले बाइडन प्रशासन ने साफ कर दिया कि रूस के यूक्रेन में पीछे हटने तक कोई समझौता नहीं होगा. बाइडन प्रशासन ने कहा, ‘अगर रूस पीछे नहीं हटा तो अमेरिका यूरोप में अपनी रणनीतिक उपस्थिति में बढ़ोतरी करेगा. वहीं, अगर रूस पीछे हटता है, तो बाइडन प्रशासन यूक्रेन में मिसाइलों की तैनाती और पूर्वी यूरोप में नाटो के सैन्य अभ्यासों में कमी लाने पर रूस के साथ चर्चा के लिए तैयार है.’

    चीनी प्रोपेगेंडा वीडियो पर सरकारी सूत्र का महत्वपूर्ण बयान आया सामने, कही ये बात

    इसके साथ ही बाइडन प्रशासन के अधिकारियों ने साफ किया कि अगर रूस यूक्रेन पर हमला करता है, तो रूस को आर्थिक रूप से तबाह कर दिया जाएगा. अमेरिका और सहयोगी देश न केवल रूस के सरकारी संस्थाओं पर कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाएंगे, बल्कि रूस की आर्थिक मोर्चे पर घेराबंदी कर उसे दुनिया के सबसे खराब आर्थिक हालात वाले देशों की श्रेणी में पहुंचा दिया जाएगा.

    ठप हो जाएंगे रूस के उद्योग
    अमेरिका ऊर्जा और उपभोक्ता वस्तुओं के साथ ही एडवांस इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट, सॉफ्टवेयर प्रोद्योगिकी के रूसी निर्यात पर प्रतिबंध लगा सकता है. इससे रूस को इंटीग्रेटेड सर्किट व संबंधित उत्पाद नहीं मिलेंगे, इससे रूस के एयरक्राफ्ट एवयोनिक्स, मशीन टूल्स, स्मार्टफोन, गेम कंसोल, टैबलेट, टीवी, आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस और क्वांटम कंप्यूटिंग जैसे तकनीकी उद्योग धाराशायी हो जाएंगे.

    अब ISIS से भिड़ने की तैयारी में तालिबान! सेना में शामिल कर रहा आत्‍मघाती दस्‍ते

    अमेरिकी पहल का जवाब नहीं दे रहा रूस
    व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने बताया कि रूस से अब तक जवाब न मिलने से यूक्रेन में तनाव कम करने के लिए व्हाइट हाउस की तरफ से टेलीफोन के जरिये की गई पहल खतरे में है. अमेरिका ने रूस से यूक्रेन सीमा पर सैन्य उपस्थिति घटाने का आग्रह किया था, लेकिन रूस ने अभी तक इस पर फैसला नहीं किया है. अधिकारी ने कहा कि यूक्रेन पर रूसी हमला हुआ तो अमेरिका कदम उठाएगा.

    यूक्रेन में रूसी हस्तक्षेप पर पश्चिमी देश नाराज
    रूस ने यूक्रेन के साथ सीमा पर सैन्य स्तर का निर्माण किया है और अमेरिकी खुफिया ने चेतावनी दी है कि रूस जनवरी के रूप में जल्द से जल्द यूक्रेन पर आक्रमण कर सकता है. इस बीच, एक अमेरिकी अधिकारी ने सीबीएस न्यूज को पुष्टि की कि एक अमेरिकी जासूसी विमान ने यूक्रेन के ऊपर एक मिशन के लिए उड़ान भरी, जिसने 27 दिसंबर को एक और उड़ान का पीछा किया. उड़ान एक JSTARS विमान द्वारा की गई थी, जो एक रडार विमान है जिसे विशेष रूप से जमीनी गतिविधियों को ट्रैक करने के लिए डिज़ाइन किया गया है.

    Tags: Joe Biden, Russia, Ukraine, Vladimir Putin

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर