अपना शहर चुनें

States

साउथ चाइना सी के दावे को नहीं मानते, दक्षिण एशियाई देशों साथ रहेंगे, अमेरिका ने ड्रैगन को दे दिया बड़ा संदेश

साउथ चाइना सी पर चीन के दावे को अमेरिका ने किया खारिज (फाइल फोटो)
साउथ चाइना सी पर चीन के दावे को अमेरिका ने किया खारिज (फाइल फोटो)

US-China News: अमेरिका ने चीन को साफ कहा है कि वह साउथ चाइना सी में अंतरराष्ट्रीय कानून को मानता है और चीनी दावे को खारिज करता है. बता दें कि अमेरिका ने कुछ दिन पहले ही इस इलाके में एक जंगी जहाज भेजा था.

  • Share this:
वाशिंगटन. जो बाइडन (Joe Biden) प्रशासन में भी चीन और अमेरिका के बीच रिश्तों में सुधार होते नहीं दिख रहे हैं. अमेरिका ने साउथ चाइना सी (South China Sea) में वाशिंगटन के जंगी जहाज भेजने को अंतरराष्ट्रीय कानूनों के तहत सही बताते हुए ड्रैगन की आपत्ति को खारिज कर दिया है. यही नहीं, अमेरिका ने साफ कर दिया है कि वह दक्षिण एशियाई देशों के साथ मजबूती के साथ खड़ा रहेगा.

अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने फिलीपींस के विदेश मंत्री टेड्रो लोकिन के साथ बातचीत में कहा कि अमेरिका दक्षिणपूर्व एशियाई देशों के साथ खड़ा है. व्हाइट हाउस द्वारा जारी बयान में कहा गया है, 'विदेश मंत्री ब्लिंकेन ने कहा कि अमेरिका दक्षिणपूर्व एशियाई देशों के साथ पूरी तरह से खड़ा है और उस इलाके में किसी प्रकार की दबाव की राजनीति नहीं हो सकती है.'

गौरतलब है कि चीन खनिज संपदा से भरपूर पूरे साउथ चाइना सी पर दावा करता है. यह इलाका दुनिया का बड़ा ट्रेड रूट भी है. हालांकि, फिलीपींस, ब्रुनेई, वियतनाम, मलेशिया और ताइवान चीन के दावे को खारिज करते रहे हैं. अमेरिका ने कहा है कि चीन कोरोना वायरस महामारी (Corona Pandemic) का फायदा उठाकर दक्षिण चीन सागर में अपनी उपस्थिति बढ़ाने की फिराक में है.



ब्लिंकेन ने साउथ चाइना सी में ड्रैगन के दावे को खारिज करते हुए कहा कि चीन को अंतरराष्ट्रीय कानून को मानना चाहिए. गौरतलब है कि पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के वक्त से ही चीन के साथ अमेरिका के रिश्ते तल्ख रहे हैं. कोरोना महामारी, हांगकांग का मुद्दा, व्यापार और मुस्लिमों के साथ चीन के रवैये को लेकर अमेरिका का ड्रैगन के साथ लगातार तनाव रहा है. दो सप्ताह पहले ट्रंप ने जाते-जाते वैसे चीनी अधिकारियों और कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिए थे जिसने दक्षिण चीन सागर में तनातनी को बढ़ावा दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज