फिर विवादों में McDonald's, 25 नए यौन उत्पीड़न के मामले दर्ज़

अमेरिका के 14,000 से ज्यादा अलग-अलग स्थानों पर मौजूद मैकडोनाल्ड्स में कुल 8 लाख 50 हज़ार कर्मचारी कार्यरत हैं.

News18Hindi
Updated: May 22, 2019, 1:00 PM IST
फिर विवादों में McDonald's, 25 नए यौन उत्पीड़न के मामले दर्ज़
फिर विवादों में मैकडोनाल्ड्स, रेस्तरां के खिलाफ 25 नए यौन उत्पीड़न के मामले दर्ज़
News18Hindi
Updated: May 22, 2019, 1:00 PM IST
अमेरिका की लोकप्रिय फास्ट फूड ज्वाइंट मैकडोनाल्ड्स (McDonald's) एक बार फिर विवादों में है. इसके अलग-अलग कार्यस्थलों से 25 नए यौन उत्पीड़न के मामले सामने आए हैं. यौन उत्पीड़न के ये मामले अमेरिका के 20 अलग शहरों में स्थित मैकडोनाल्ड्स के विक्री केंद्रों से आए हैं, जिसकी अब जांच होगी.

शिकायतकर्ताओं ने अपनी शिकायत में गलत ढंग से छूने, अश्लीलता, सेक्स का प्रस्ताव रखने और भद्दे कमेंट करने जैसे संगीन आरोप अपने ही सहकर्मियों पर लगाए हैं.



दर्जनों कर्मचारियों ने कंपनी के शिकागो स्थित हेडक्वार्टर के सामने विरोध प्रदर्शन किया. अमेरिका के  14,000 से ज्यादा अलग-अलग स्थानों पर मौजूद मैकडोनाल्ड्स में कुल 8 लाख 50 हज़ार कर्मचारी  कार्यरत हैं. अमेरिका में 90 फीसदी से अधिक स्थानों पर मैकडोनाल्ड्स की फ्रेंचाइजी है. कंपनी लंबे वक्त से कहती आ रही है कि उसके किसी भी फ्रेंचाइजी आउटलेट में कर्मचारियों के व्यवहार के लिए वो उत्तरदायी नहीं है.

तीन सालों में मैकडोनाल्ड्स पर 50 से अधिक यौन उत्पीड़न के आरोप और मुकदमे चल रहे हैं. पिछले साल सितंबर में अमेरिका के 10 शहरों में मैकडोनाल्ड्स के कर्मचारी यौन उत्पीड़न के बढ़ते मामलों का विरोध करते हुए एक दिन के हड़ताल पर थे.

फ्लोरिडा स्टोर में कार्यरत जमैलिया फेयरले ने कहा, 'मुझे मैकडोनाल्ड्स में शर्मिंदगीपूर्ण तथा डर के माहौल का सामना करना पड़ा और प्रबंधकों ने इसे रोकने के लिए कुछ नहीं किया.'

जमैलिया ने आगे कहा कि मैकडोनाल्ड्स ने उसके साथ बदतमीजी करने वाले का ट्रांस्फर तो कर दिया, लेकिन साथ ही उसके काम करने के घंटे भी कम कर दिए. इसका सीधा असर उसकी आय पर पड़ा है जिससे उसे अपने दो साल के बच्चे को पालने में मुश्किल हो रही है.

(अपने WhatsApp पर पाएं लोकसभा चुनाव के लाइव अपडेट्स)
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...