होम /न्यूज /दुनिया /

अमेरिका में भीषण सूखा, कई राज्यों का पानी 'काटा गया', मेक्सिको में भी बढ़ा संकट

अमेरिका में भीषण सूखा, कई राज्यों का पानी 'काटा गया', मेक्सिको में भी बढ़ा संकट

एरिजोना राज्य की पानी सप्लाई में 21 प्रतिशत की कटौती की गई है. फाइल फोटो

एरिजोना राज्य की पानी सप्लाई में 21 प्रतिशत की कटौती की गई है. फाइल फोटो

America News: रिपोर्ट के मुताबिक जल संकट के बीच अब कोलोराडो नदी से एरिज़ोना राज्य का आवंटन 2023 में 21 प्रतिशत तक कम होगा, जबकि नेवादा को आठ और मेक्सिको के आवंटन में सात प्रतिशत की गिरावट आएगी.

हाइलाइट्स

अत्यधिक गर्मी और कम वर्षा के चलते कोलोराडो नदी में कम हुआ पानी
कई राज्यों को पानी के कम उपयोग के उपाय तलाशने के निर्देश
पानी संकट के चलते फसलों की कटाई के समय और पैदावार पर बुरा असर

वाशिंगटन. अमेरिका में ऐतिहासिक सूखे के बाद कुछ राज्यों और मेक्सिको को दी जाने वाली पानी की आपूर्ति में कटौती की गई है. अधिकारियों के मुताबिक ये फैसला कोलोराडो नदी में पानी की कमी के चलते लिया गया है. AFP के मुताबिक औसत से कम वर्षा होने के चलते पश्चिमी अमेरिका की जीवनरेखा कोलोराडो नदी में पानी का जलस्तर तेजी से कम हुआ है. वहीं अमेरिकी सरकार के निर्देशों के बावजूद अब तक नदी पर निर्भर राज्य अपने उपयोग में कटौती करने की योजना पर सहमत नहीं हो पाए हैं.

अमेरिकी आंतरिक विभाग में जल और विज्ञान की सहायक सचिव तान्या ट्रुजिलो ने नदी के घटते जलस्तर पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि राज्यों को अब नदियों पर अपनी निर्भरता को देखते हुए पानी के कम उपयोग के उपाय तलाशने होंगे. अमेरिका में पड़ रहे सूखे के कारण कई राज्यों में पानी का संकट पैदा हो गया है. रिपोर्ट के मुताबिक पानी संकट के बीच अब कोलोराडो नदी से एरिज़ोना राज्य का आवंटन 2023 में 21 प्रतिशत तक कम होगा, जबकि नेवादा को आठ और मेक्सिको के आवंटन में सात प्रतिशत की गिरावट आएगी.

हालांकि इस कटौती से नदी के पानी का सबसे बड़ा उपयोगकर्ता और पश्चिमी राज्यों में सबसे अधिक आबादी वाला कैलिफोर्निया इस कटौती से प्रभावित नहीं होगा. कोलोराडो नदी रॉकी पर्वत से निकलती है और कोलोराडो, यूटा, एरिज़ोना, नेवादा, कैलिफ़ोर्निया और उत्तरी मेक्सिको होते हुए कैलिफ़ोर्निया की खाड़ी में गिरती है. अब कम वर्षा और बर्फ के अधिक न गिरने से नदी के जलस्तर पर बुरा प्रभाव पड़ा है.

Tags: America, World news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर