डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिकी सीनेट से झटका, चाइनीज टेलीफोन कंपनी पर फिर से लगाया प्रतिबंध

डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिकी सीनेट से झटका, चाइनीज टेलीफोन कंपनी पर फिर से लगाया प्रतिबंध
अमेरिकी सीनेट ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के फैसले के खिलाफ जाकर चीन की दूरसंचार कंपनी जेडटीई पर फिर से प्रतिबंध लगाने के पक्ष में मतदान किया

ट्रंप प्रशासन ने चीनी कंपनी को 1.4 अरब डॉलर के दंड के बदले उसे पाबंदी में ढील देने का फैसला किया था

  • Share this:
अमेरिकी सीनेट ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के फैसले के खिलाफ जाकर चीन की दूरसंचार कंपनी जेडटीई पर फिर से प्रतिबंध लगाने के पक्ष में मतदान किया. ट्रंप प्रशासन ने चीनी कंपनी को 1.4 अरब डॉलर के दंड के बदले उसे पाबंदी में ढील देने का फैसला किया था.

सीनेटरों ने राष्ट्रीय रक्षा खर्च विधेयक में ही जेडटीई को लक्ष्य करते हुए प्रावधान कर दिया. इस विधेयक को पारित किया जाना जरूरी था. इसके पक्ष में 85 और विपक्ष में 10 वोट पड़े.

अमेरिका ने कहा था कि उसने अमेरिकी कंपनियों पर जेडटीई को सात साल तक महत्वपूर्ण हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर पुर्जे बेचने का प्रतिबंध लगा दिया है. उसके बाद से ही कंपनी लाइफ सपोर्ट प्रणाली पर थी.



अमेरिकी अधिकारियों ने यह प्रतिबंध इसलिए लगाया है क्योंकि उनका कहना है कि ईरान और उत्तर कोरिया को सामान की गैरकानूनी बिक्री के बारे में कंपनी ने गलत जानकारी दी थी. पिछले साल मार्च में जेडटीई को इन आरोपों का दोषी पाया गया और उस पर 1.2 अरब डॉलर का जुर्माना लगाया गया था.
 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading