अमेरिका ने ईरानी टैंकर के चालक दल पर वीजा प्रतिबंध लगाने की धमकी दी

अमेरिका (America) के विदेश विभाग की प्रवक्ता मॉर्गन ऑर्टागस ने कहा, "ईरान (Iran) से तेल का परिवहन करके रिवॉल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (Revolutionary Guard Corps) की सहायता करने वाले जहाजों के चालक दल के सदस्य आतंकवाद-संबंधी अस्वीकार्य काम करने के आधार पर वीजा के लिए या अमेरिका में प्रवेश के लिए अयोग्य हो सकते हैं."

News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 12:57 PM IST
अमेरिका ने ईरानी टैंकर के चालक दल पर वीजा प्रतिबंध लगाने की धमकी दी
यूएस और ईरान के बीच तनाव की स्थिति बदस्तूर जारी है.
News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 12:57 PM IST
अमेरिका (America) ने जब्त किए गए एक ईरान (Iran) के सुपरटैंकर के चालक दल पर वीजा संबंधी प्रतिबंध लगाने की धमकी दी है. विदेश विभाग की प्रवक्ता मॉर्गन ऑर्टागस ने गुरुवार को कहा कि ग्रेस 1 टैंकर पिछले महीने तेल ले कर ईरान से सीरिया जा रहा था और इस तरह वह ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स की सहायता कर रहा था, जिसे अमेरिका एक आतंकवादी संगठन मानता है. इस टैंकर को पिछले माह जिब्राल्टर तट के पास पकड़ा गया था.

ऑर्टागस ने कहा, "ईरान से तेल का परिवहन करके रिवॉल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स की सहायता करने वाले जहाजों के चालक दल के सदस्य आतंकवाद-संबंधी अस्वीकार्य काम करने के आधार पर वीजा के लिए या अमेरिका में प्रवेश के लिए अयोग्य हो सकते हैं." उन्होंने कहा "नौवहन समुदाय को पता होना चाहिए कि अमेरिकी सरकार ऐसे चालक दल के सदस्यों का वीजा रद्द कर सकती है."

जिब्राल्टर पुलिस और ब्रिटिश विशेष बलों ने 4 जुलाई को ग्रेस 1 नामक टैंकर को जब्त कर लिया, जो 21 लाख बैरल ईरानी तेल लेकर सीरिया जा रहा था. इस घटना के बाद राजनयिक संकट पैटा हो गया है. अपना टैंकर जब्त किए जाने की इस घटना के जवाब में ईरान ने दो हफ्ते बाद होर्मुज की जलसंधि पर एक ब्रिटिश टैंकर स्टेना इंपेरो को जब्त कर लिया, जिससे तनाव और बढ़ गया.

ये भी पढ़ें-

योगी सरकार का UP पुलिस को बड़ा तोहफा, आज से हफ्ते में 1 दिन मिलेगा अवकाश

अगवा कर नाबालिग लड़की की रेप के बाद हत्या, गांव के दबंगों पर शक़
First published: August 16, 2019, 12:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...