Home /News /world /

कोरोना संक्रमित गर्भवती के बच्चे को जन्म देने पर होगा कैसा असर, नई रिसर्च में हुआ खुलासा

कोरोना संक्रमित गर्भवती के बच्चे को जन्म देने पर होगा कैसा असर, नई रिसर्च में हुआ खुलासा

बच्‍चों को लेकर हुए अमेरिकी अध्‍ययन में कई खुलासे हुए हैं. ( प्रतीकात्‍मक फोटो)

बच्‍चों को लेकर हुए अमेरिकी अध्‍ययन में कई खुलासे हुए हैं. ( प्रतीकात्‍मक फोटो)

जिन महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान COVID-19 था, उनसे पैदा हुए बच्चों ने छह महीने के फॉलो-अप में वृद्धि और विकास के आश्वस्त करने वाले पैटर्न दिखाए हैं. यह बहुत अच्‍छी खबर का खुलासा एक अमेरिका (America) रिपोर्ट में हुआ है. इस संबंध में एक शोध 'जर्नल ऑफ पेरिनाटल मेडिसिन' में प्रकाशित हुआ है. उन्‍होंने कहा है कि हमने ऐसे खास बच्‍चों पर 6 महीने तक फॉलोअप किया और इनमें सामान्‍य बच्‍चों की तरह होने वाला ग्रोथ पैटर्न और विकासात्‍मक पड़ाव देखा गया.

अधिक पढ़ें ...

    वाशिंगटन.  जिन महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान COVID-19 था, उनसे पैदा हुए बच्चों ने छह महीने के फॉलो-अप में वृद्धि और विकास के आश्वस्त करने वाले पैटर्न दिखाए हैं. यह बहुत अच्‍छी खबर का खुलासा एक अमेरिका (America)  रिपोर्ट में हुआ है. इस संबंध में एक शोध ‘जर्नल ऑफ पेरिनाटल मेडिसिन’ में प्रकाशित हुआ है. लुरी चिल्ड्रन अस्‍‍‍‍‍‍पताल की नियोनेटोलॉजिस्ट और प्रेंटिस महिला अस्पताल के न्यूबॉर्न नर्सरी की मेडिकल डायरेक्टर एवं नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी फीनबर्ग स्कूल ऑफ मेडिसिन में बाल रोग की एसोसिएट प्रोफेसर मलिका शाह, एमडी इस शोध की वरिष्ठ लेखिका हैं.

    उन्‍होंने कहा है कि हमने ऐसे खास बच्‍चों पर 6 महीने तक फॉलोअप किया और इनमें सामान्‍य बच्‍चों की तरह होने वाला ग्रोथ पैटर्न और विकासात्‍मक पड़ाव देखा गया. जैसा कि हम सामान्‍य तौर पर देखते हैं, इन बच्‍चों में भी ऐसा ही देखने को मिला, इनमें विकास संबंधी रेफरल रेट भी अधिक नहीं है. यह महामारी के दौर में एक बहुत अच्‍छी खबर है जो विशेष रूप से सेहत विषमताओं और कोरोना के बुरे प्रभावों से बिलकुल अलग है.

    ये भी पढ़ें : EXCLUSIVE: महिलाओं की शादी की उम्र बढ़ाने से होंगे कई फायदे, जानें बिल में क्या-क्या हैं प्रावधान

    ये भी पढ़ें :   बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन कितनी जरूरी, कब तक आएगा टीका; जानें 9 अहम सवालों के जवाब

    इस अध्‍ययन में 33 महिलाओं को शामिल किया गया था. इन सभी को गर्भावस्‍था के दौरान को‍विड -19 बीमारी (corona infection) हुई थी. इनके बच्‍चों के स्‍वास्‍थ्‍य और विकास पर विशेष तौर पर नजर रखी गई. इन अमेरिकी महिलाओं में से 55 प्रतिशत को प्रसव के 10 दिनों के भीतर कोरोना पॉजिटिव आया था. वहीं किसी भी शिशु को कोरोना टेस्‍ट पॉजिटिव नहीं आया. तीन बच्‍चे का जन्‍म समय से पहले हो गया था और पांच बच्‍चों को नवजात गहन देखभाल की जरूरत हुई.

    प्रोफेसर मलिका शाह ने कहा कि अप्रैल से जुलाई 2020 के बीच जन्‍में नवजात बच्‍चों पर यह अध्‍ययन किया गया है, तब तक कोरोना वैक्‍सीन उपलब्‍ध नहीं हुए थे. यह अध्‍ययन कोरोना वेरिएंट्स के बारे में जानकारी मिलने से पहले ही किया गया था. इसके साथ ही कोरोना महामारी के फैलने और कोरोना के वेरिएंट्स सामने आने के बाद परिस्थिति में क्‍या बदलाव हुआ है, इस पर कुछ भी कहना संभव नहीं है. इस बारे में अध्‍ययनों के निष्‍कर्ष का इंतजार किया जा रहा है.

    Tags: America, Corona infection

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर