• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • तालिबान के हाथ न लग जाए पाकिस्‍तान के परमाणु हथियार, अमेरिका में बढ़ा खौफ

तालिबान के हाथ न लग जाए पाकिस्‍तान के परमाणु हथियार, अमेरिका में बढ़ा खौफ

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (AP)

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (AP)

अमेरिकी सांसदों के एक समूह ने मांग की है कि अफगानिस्तान ( Afghanistan) में जो कुछ भी हुआ और भविष्य की क्या योजनाएं हैं उससे जुड़े गंभीर सवालों के जवाब राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) को देने चाहिए.

  • Share this:

    काबुल. अफगानिस्तान ( Afghanistan) में तालिबान (Taliban) के कब्‍जे के बाद अमेरिका (US) में यह चिंता बढ़ गई है कि पाकिस्‍तान के परमाणु हथियारों ( Pakistan Nuclear Weapons) पर कहीं यह आतंकवादी संगठन कब्‍जा ना कर ले. अमेरिकी सांसदों (US Lawmakers) के एक समूह ने राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) से मुलाकात करके अपील की है कि अफगानिस्तान पर कब्जा करने वाला तालिबान पाकिस्तान को अस्थिर न करे और परमाणु हथियार भी हासिल न कर पाए.

    न्यूज़ एजेंसी AP के मुताबिक, अमेरिकी सांसदों के एक समूह ने मांग की है कि अफगानिस्तान में जो कुछ भी हुआ और भविष्य की क्या योजनाएं हैं उससे जुड़े गंभीर सवालों के जवाब बाइडन को देने चाहिए. सीनेट और प्रतिनिधि सभा के 68 सांसदों के एक समूह ने बाइडन को बुधवार को लिखे एक पत्र में पूछा, ‘अगर तालिबान अफगानिस्तान की सीमा पर सैन्यीकरण करें, तो क्या आप क्षेत्रीय सहयोगियों का सैन्य रूप से समर्थन करने के लिए तैयार हैं? यह सुनिश्चित करने के लिए आपकी क्या योजना है कि तालिबान अपने परमाणु सम्पन्न पड़ोसी पाकिस्तान को अस्थिर न करे? क्या आपके पास यह सुनिश्चित करने के लिए कोई योजना है कि तालिबान के कब्जे में अफगानिस्तान कभी भी परमाणु हथियार हासिल ना कर पाए?’

    तालिबान खुद हुआ आतंकी हमले का शिकार, काबुल ब्लास्ट में 28 लड़ाकों की मौत

    सांसदों ने कहा कि तालिबान के अफगानिस्तान पर तेजी से कब्जा करने कारण पिछले दो सप्ताह में दुनिया ने काफी बर्बरता देखी है. यह अफगानिस्तान से हमारे मुख्य सैन्य बल के बचे हुए छोटे से हिस्से को पूरी तरह से वापस लाने और अमेरिकी कर्मियों तथा उनके अफगान भागीदारों को निकालने में अनावश्यक रूप से देरी करने का परिणाम है.

    जानें कौन है ISKP का हेड असलम फारूकी? पाकिस्तान से है गहरा ताल्लुक

    अफगानिस्तान में स्थिति तेजी से खराब हो रही
    अमेरिकी सांसदों ने कहा कि तालिबान के शासन में अफगानिस्तान में स्थिति तेजी से खराब हो रही है. वहां महिलाओं तथा लड़कियों पर अत्याचार हो रहे हैं, नागरिक समाज का दमन हो रहा है, अनगिनत अफगान लोगों को घर छोड़ना पड़ रहा है, जिन्हें तालिबान अफगानिस्तान से निकलने से रोकने के लिए बल का इस्तेमाल भी कर रहा है. वहीं, चीन मौजूदा स्थिति का फायदा उठाने के लिए तालिबान के साथ संबंध बढ़ा रहा है. (एजेंसी इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज