COVID-19 New Strain: अब अमेरिका में भी मिला कोरोना वायरस का नया वेरिएंट, 50% ज्यादा संक्रामक

ब्रिटेन में पहली बार पहचाने गए वेरिएंट दूसरे वेरिएंट की तुलना में अधिक आसानी से और तेज़ी से फैलता है.

ब्रिटेन में पहली बार पहचाने गए वेरिएंट दूसरे वेरिएंट की तुलना में अधिक आसानी से और तेज़ी से फैलता है.

Coronavirus: टास्कफोर्स ने अलग-अलग राज्यों को जो जानकारी दी है, उसके मुताबिक कोरोना वायरस के इस नए वेरिएंट (COVID-19 New Strain) का संक्रमण दोगुने रफ्तार से फैल रहा है. साथ ही कहा है कि वायरस के इस नए वैरिएंट को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग की कड़ाई से पालन करने की भी जरूरत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2021, 1:22 PM IST
  • Share this:
न्ययॉर्क. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने पूरी दुनिया को तबाह कर दिया है. चिंता की बात ये है कि वायरस तेजी से अपना रूप भी बदल रहा है. ब्रिटेन के बाद अब अमेरिका से भी खबरें आ रही हैं कि यहां भी कोरोना वायरस (COVID-19 New Strain) के नए वेरिएंट मिले हैं. खास बात ये है कि वायरस का ये नया रूप 50 फीसदी तेजी से फैल रहा है. कोरोना का ये नया स्ट्रेन ब्रिटेन से अलग है. व्हाइट हाउस की कोरोना वायरस टास्कफोर्स ने इस नए वेरिएंट को लेकर सरकार को आगाह किया है.

टास्कफोर्स ने अलग-अलग राज्यों को जो जानकारी दी है उसके मुताबिक दोगुने रफ्तार से इसका संक्रमण फैल रहा है. साथ ही कहा है कि वायरस के इस नए वैरिएंट को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग की कड़ाई से पालन करने की भी जरूरत है. फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के पूर्व कमिश्नर स्कॉट गोटलिब ने शुक्रवार को सीएनबीसी न्यूज को बताया कि टास्क फोर्स को जो नया स्ट्रेन मिला है वो ब्रिटेन वाले स्ट्रेन की तरह व्यवहार कर रहा है.

नए मामलों की पहचान

रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) द्वारा गुरुवार को अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक ब्रिटेन के नए कोरोनावायरस वायरस के अब तक कुल 52 मामलों की पहचान की गई है, जिसमें 26 कैलिफोर्निया में, फ्लोरिडा में 22, कोलोराडो में दो और जॉर्जिया और न्यूयॉर्क में एक-एक मामले दर्ज किए गए हैं.
ये भी पढ़ें:- कोरोना वैक्सीन का ट्रायल डोज लेने के 9 दिन बाद वालंटियर की मौत से हड़कंप

तेज़ी से फैल रहा है ये वैरिएंट

ब्रिटेन में पहली बार पहचाने गए वेरिएंट दूसरे वेरिएंट की तुलना में अधिक आसानी से और तेज़ी से फैलता है. सीडीएस के अनुसार फिलहाल ऐसे कोई सबूत नहीं है जिससे ये कहा जाए कि ये ज्यादा अधिक गंभीर बीमारी लेकर आ रहा है या फिर इससे मौत का खतरा बढ़ रहा है. जॉन हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के के आंकड़ों के अनुसार अमेरिका में पिछले एक सप्ताह में औसतन रोजाना 2,686 से अधिक संक्रमितों की मृत्यु हुई और अब तक इस देश में कोविड-19 से 3,61,453 लोगों की जान जा चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज