लाइव टीवी

अमेरिकी संसद में फिर हुई PM मोदी की तारीफ, कहा- उनके इस फैसले से हो गया कमाल

भाषा
Updated: December 21, 2019, 9:50 AM IST
अमेरिकी संसद में फिर हुई PM मोदी की तारीफ, कहा- उनके इस फैसले से हो गया कमाल
पीएम मोदी

जो विल्सन (joe wilson) ने कहा कि भारत सरकार का फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आर्थिक विकास को गति देने, भ्रष्टाचार से लड़ने और जातीय एवं धार्मिक भेदभाव खत्म करने की कोशिश को समर्थन देने के लिए है.

  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका के एक प्रभावशाली सांसद ने अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से आर्किटल 370 (Article 370) हटाये जाने का जम कर समर्थन किया है. सांसद जो विल्सन (joe wilson) ने कहा कि जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि भारत सरकार का फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आर्थिक विकास को गति देने, भ्रष्टाचार से लड़ने और जातीय एवं धार्मिक भेदभाव खत्म करने की कोशिश को समर्थन देने के लिए है.

उल्लेखनीय है कि पांच अगस्त को सरकार ने अनुच्छेद-370 के आधिकतर प्रावधानों को निरस्त करते हुए जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर दिया और प्रदेश को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया था.

खत्म होगा भ्रष्टाचार

अमेरिकी सांसद ने हाउस ऑफ रिप्रजंटेटिव में गुरुवार को कहा कि भारतीय संसद ने कई पार्टियों के सहयोग से प्रधानमंत्री की आर्थिक विकास को गति देने, भ्रष्टाचार से लड़ने और लैंगिक तथा जातीय और धार्मिक भेदभाव को समाप्त करने की कोशिश को समर्थन देने का फैसला किया.’



खुश है अमेरिका
दक्षिणी कैरोलिना से रिपब्लिकन सांसद ने कहा कि अमेरिकी दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्र है और भारत को दुनिया के सबसे विशाल लोकतंत्र के रूप में सफल देखकर प्रसन्न है.

पहले भी किया था समर्थन
गौरतलब है कि भारतीय मूल के अमेरिकी सांसद रोहित खन्ना ने भी कहा था कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को इस मामले में संयम बरतने की जरूरत है. रो खन्ना के नाम से मशहूर रोहित हाल ही में पाकिस्तानी कांग्रेशनल कॉकस में ये बात कही थी.

रो खन्ना ने कैलिफोर्निया के फ्रीमॉन्ट में हाल ही भारतीय-अमेरिकी समुदाय के लोगों के साथ बातचीत में कहा था,‘‘कश्मीर भारत के लोकतंत्र का आंतरिक मामला है और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को संभल कर बयानबाजी करनी चाहिए और इसे युद्ध अथवा संघर्ष तक नहीं ले जाना चाहिए.’’

ये भी पढ़ें: 

खेल खेल में इस बच्चे ने एक साल में कमाएं 182 करोड़ रुपये!

क्या ट्रंप के हाथ से चली जाएगी राष्ट्रपति की कुर्सी? जानें आगे की राह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 21, 2019, 5:17 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर