अमेरिका की तालिबान के साथ शांति वार्ता खत्म, ट्रंप बोले- 14 हज़ार सैनिकों की फिलहाल नहीं होगी वापसी

भाषा
Updated: September 10, 2019, 11:29 AM IST
अमेरिका की तालिबान के साथ शांति वार्ता खत्म, ट्रंप बोले- 14 हज़ार सैनिकों की फिलहाल नहीं होगी वापसी
डोनाल्ड ट्रंप ने तालिबान और अफगानिस्तान के नेताओं के साथ ‘कैम्प डेविड’ में होने वाली गोपनीय बैठक रद्द कर दी

अमेरिका (America) ने ये कदम काबुल में पिछले सप्ताह हुए हमले की जिम्मेदारी तालिबान (Taliban) द्वारा लेने के बाद उठाया है. इस हमले में अमेरिका का एक सैनिक भी मारा गया था.

  • भाषा
  • Last Updated: September 10, 2019, 11:29 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन: अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trumph) ने सोमवार को कहा कि तालिबान (Taliban) के साथ लंबे समय से चल रही वार्ता बिना किसी नतीजे पर पहुंचे खत्म हो गयी है. इस वार्ता का अंत अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के साथ होना था.

व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए ट्रंप ने कहा कि , ‘‘ जहां तक मुझे पता है ये बातचीत खत्म हो चुकी है.’’ ट्रम्प ने शनिवार को ये कह कर दुनिया को सकते में डाल दिया था कि उन्होंने तालिबान और अफगानिस्तान के नेताओं के साथ ‘कैम्प डेविड’ में होने वाली गोपनीय बैठक रद्द कर दी है. अमेरिका ने ये कदम काबुल में पिछले सप्ताह हुए हमले की जिम्मेदारी तालिबान द्वारा लेने के बाद उठाया है. इस हमले में अमेरिका का एक सैनिक भी मारा गया था.

बता दें कि पिछले हप्ते डोनाल्ड ट्रंप तालिबान के एक डेलिगेशन के साथ बातचीत करने वाले थे. इस बीच तालिबान ने कहा है कि बातचीत खत्म होने का नुकसान अमेरिका को उठाना पड़ सकता है.

वार्ता रद्द करने के फैसले के बारे में पूछे जाने पर ट्रंप ने कहा, ‘‘ उन्होंने (तालिबान) सोचा कि बातचीत में खुद को बेहतर स्थिति पर रखने के लिए उन्हें लोगों को मारना होगा...वह मेरे साथ ऐसा नहीं कर सकते.’’ ट्रंप ने कहा, ‘‘जहां तक मेरी बात है तो मेरे लिए वे समाप्त हो चुके हैं. हमने पिछले चार दिनों में तालिबान पर जितने कठोर प्रहार किए हैं उतने पिछले 10 वर्षों में नहीं किए.’’ उन्होंने कहा कि तालिबान ने गलती कर दी. हम निकलना (अफगानिस्तान से) चाहते थे, लेकिन हम उचित समय पर ही जाएंगे.

पिछले दिनों ट्रंप ने कहा था कि वो अफगानिस्तान से 14 हज़ार अमेरिकी सैनिक को वापस बुला लेंगे. लेकिन उन्होंने अब कहा है कि वो सैनिकों को वापस बुलाना चाहते हैं लेकिन इसका सही समय पर इस पर फैसला लिया जाएगा. बता दें कि साल 2001 में 11 सितंबर को हमले के बाद अमेरिकी सैनिकों ने अफगानिस्तान से तालिबान की सरकार को उखाड़ फेंका था.

ये भी पढ़ें:

32 साल का युवक 81 साल का बूढ़ा बन जा रहा था न्यूयॉर्क
Loading...

ट्रेन में जल्द यात्रियों को मिल सकेगा मनपसंद खाना, 40 से 250 रुपये तक होगा दाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 11:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...