लाइव टीवी

ट्रंप ने की भारतीय मूल के अमेरिकियों की तारीफ कहा- आपने हमारी संस्कृति को समृद्ध बनाया

भाषा
Updated: September 23, 2019, 10:32 PM IST
ट्रंप ने की भारतीय मूल के अमेरिकियों की तारीफ कहा- आपने हमारी संस्कृति को समृद्ध बनाया
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप.

अमेरिकी राष्ट्रपति (US President) ट्रंप ने टेक्सास के ह्यूस्टन (Houston) में आयोजित ऐतिहासिक 'हाउडी, मोदी' (howdy modi) कार्यक्रम में अमेरिका में भारतीय समुदाय के लोगों की भूमिका की प्रशंसा की. ट्रंप ने यहां एनआरजी स्टेडियम में 50 हजार से अधिक भारतीय मूल के अमेरिकियों की सभा को संबोधित किया.

  • भाषा
  • Last Updated: September 23, 2019, 10:32 PM IST
  • Share this:
ह्यूस्टन. अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रभावशाली और उन्नतिशील भारतीय मूल के अमेरिकी समुदाय की देश में योगदान की प्रशंसा की. डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) ने कहा कि उन्हें इस बात का 'वास्तव में गर्व' है कि वे अमेरिकियों के रूप में यहां हैं. ट्रंप ने टेक्सास के ह्यूस्टन (Houston) में आयोजित ऐतिहासिक 'हाउडी, मोदी' (Howdy modi) कार्यक्रम में अमेरिका में भारतीय समुदाय के लोगों की भूमिका की प्रशंसा की. ट्रंप 50 हजार से अधिक भारतीय मूल के अमेरिकियों की सभा को संबोधित कर रहे थे जो एनआरजी स्टेडियम (NRG Stadium) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के स्वागत के लिए एकत्रित हुए थे.

उन्होंने रविवार को कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi)और मैं उन सभी चीजों की प्रशंसा करने के लिए ह्यूस्टन आये हैं जो अमेरिका (America) और भारत को एकजुट करती हैं.' ट्रंप ने कहा कि वह देश में रह रहे करीब 40 लाख भारतीय (Indians) अमेरिकियों के प्रति अपना गहरा आभार जताने के लिए इस कार्यक्रम में आये हैं जो उन्नतिशील, समृद्ध और मेहनती हैं.'

भारतीयों ने हमारी संस्कृति को समृद्ध बनाया
ट्रंप ने कहा, 'आपने हमारी संस्कृति को समृद्ध बनाया है. आपने हमारे समाज का उत्थान किया. आपके अमेरिकी होने पर वास्तव में गर्व है और हमें गर्व है कि आप अमेरिकी के तौर पर यहां हैं. (Trump) ट्रंप ने कार्यक्रम को 'ऐतिहासिक' बताया. इस पर लोगों ने ट्रंप का खड़े होकर अभिवादन किया.

2020 के राष्ट्रपति चुनाव पर हैं ट्रंप की निगाहें
ट्रंप की नजर 2020 में राष्ट्रपति (President) के तौर पर दूसरे कार्यकाल पर है. उन्होंने कहा, 'हम आप सभी का धन्यवाद करते हैं, हम आपसे प्रेम करते हैं और मैं यह चाहता हूं कि आप यह जानें कि मेरा प्रशासन आप प्रत्येक के लिए प्रतिदिन प्रयासरत है.' ट्रंप ने कहा कि पिछले करीब दो वर्षों के दौरान भारतीय-अमेरिकियों के बीच बेरोजगारी (Unemployment) दर में 33 फीसदी की कमी आयी है.

भारतीय कंपनियां अमेरिका में देती हैं रोजगार
Loading...

ट्रंप (Trump) ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के साथ मिलकर भारतीय मूल के अमेरिकी समुदाय के साथ काम करने को लेकर उत्सुक हैं जिससे कि दोनों देशों को और अधिक समृद्ध बनाया जा सके. उन्होंने कहा कि विभिन्न भारतीय कंपनियां अमेरिका (America) में हजारों अमेरिकियों को रोजगार (Employment) देती हैं. ट्रंप ने कहा कि उनका प्रशासन मानता है कि यह 'हमारा पहला कर्तव्य है कि 'हम हमेशा अमेरिकी लोगों के लिए तत्पर रहें' चाहे वह अफ्रीकी अमेरिकी हों, लातिनी अमेरिकी-अमेरिकी या भारतीय-अमेरिकी' उन्होंने कहा, 'हम अपने नागरिकों की देखभाल पहले करेंगे, हम हमारे देश में आने वाले अवैध प्रवासियों से पहले भारतीय मूल के अमेरिकियों की देखभाल पहले करेंगे.'

मोदी की अपील का कितना होगा असर
पीएम मोदी (PM Modi) ने ट्रंप को 2020 के चुनाव के लिए परोक्ष तौर पर समर्थन देते हुए कहा था 'अबकी बार, ट्रंप सरकार.' मोदी की इस अपील से ट्रंप को करीब 40 लाख भारतीय मूल के अमेरिकियों का वोट प्राप्त करने में मदद मिल सकती है जो पारंपरिक रूप से डेमोक्रेटिक पार्टी (Democratic Party) के वोटर रहे हैं. मोदी ने कहा, 'आप हमारे दो महान देशों के लोगों के बीच संबंध की ताकत और गहराई महसूस कर सकते हैं. ह्यूस्टन से हैदराबाद तक, बोस्टन से बेंगलुरु तक, शिकागो से शिमला, लॉस एंजिलिस से लुधियाना तक, न्यूजर्सी से नई दिल्ली तक लोगों के बीच दिल का रिश्ता है.

ट्रम्प ने ट्वीट कर कहा, अमेरिका भारत से प्यार करता है
पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा, 'राष्ट्रपति महोदय, आपने 2017 में मुझे अपने परिवार से मिलवाया था और आज मुझे आपको अपने परिवार यानी कि एक अरब से अधिक भारतीयों और दुनियाभर के भारतीय (Indian) विरासत के लोगों से मिलवाने का सौभाग्य मिला है.' इस कार्यक्रम के तुरंत बाद ट्रम्प ने ट्वीट (Tweet) किया, 'अमेरिका भारत से प्यार करता है. उन्होंने ह्यूस्टन में एनआरजी में माहौल को 'अविश्वसनीय' बताया.

ये भी पढ़ें- Howdy Modi: पीएम मोदी ने साधा पाक पर निशाना, पूछा- 9/11 और 26/11 के हमलावर कहां पाए गए? 

अमेरिका से तनाव की बीच रूहानी की चेतावनी, खाड़ी देशों से दूर रहें विदेशी ताकतें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 23, 2019, 10:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...