लाइव टीवी

धरती को चपटी बताने वाले अमेरिकी स्‍टंट्समैन 'मैड माइकी' की घर पर बनाए रॉकेट की लॉन्चिंग के दौरान मौत

News18Hindi
Updated: February 24, 2020, 2:48 PM IST
धरती को चपटी बताने वाले अमेरिकी स्‍टंट्समैन 'मैड माइकी' की घर पर बनाए रॉकेट की लॉन्चिंग के दौरान मौत
अमेरिका के एमैच्‍योर स्‍टंटमैन माइकल ह्यू की होममेड रॉकेट की लॉन्चिंग के दौरान दुर्घटना में मौत हो गई.

अमेरिकी एस्‍ट्रोनॉट (American Astronaut) बनने की चाहत रखने वाले स्‍टंट्समैन माइकल ह्यू (Michael Hughes) ने कहा था, मैं 1,500 मीटर की ऊंचाई तक उड़ाना भरकर यह साबित कर दूंगा कि धरती गोल (Round Shaped) नहीं, बल्कि चपटी (Frisbee) है. होममेड रॉकेट (Homemade Rocket) में उड़ान भरने के दौरान शनिवार को उनकी कैलिफोर्निया (California) में मौत हो गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2020, 2:48 PM IST
  • Share this:
लॉस एंजेल्‍स. एमैच्‍योर अमेरिकी स्‍टंट्समैन (American Stuntsman) और एस्‍ट्रोनॉट बनने की चाहत रखने वाले माइकल ह्यू (Michael Hughes) उर्फ मैड माइकी की होममेड रॉकेट में उड़ान भरने के दौरान शनिवार को कैलिफोर्निया (California) में मौत हो गई. लॉन्चिंग को कवर कर रहे डिस्‍कवरी चैनल (Discovery Channel) के साइंस चैनल ने बताया, 'माइकल यह साबित करना चाहते थे कि धरती गोल न होकर चपटी है.' माइकल ने यह स्‍टीम-पावर्ड रॉकेट (Steam-Powered Rocket) अपने कैलिफोर्निया में बैरस्‍टॉ स्थित घर पर ही बनाया था. उनके इस प्रोजेक्‍ट को कई ब्रांड्स ने स्‍पांसर किया था.

डैरेन ने कहा, पब्लिसिटी के लिए कही थी धरती के चपटी होने की बात
माइकल ने स्‍थानीय प्रेस से कहा था, 'मैं 1,500 मीटर की ऊंचाई तक उड़ाना भरकर यह साबित कर दूंगा कि धरती गोल (Round Shaped) नहीं, बल्कि चपटी (Frisbee) है. हालांकि, लॉस एंजेल्‍स टाइम्‍स से बातचीत के दौरान उनके प्रवक्‍ता डैरेन शस्‍टरी ने कहा था, 'धरती के चपटी होने का दावा पब्लिसिटी के लिए किया गया था. मुझे नहीं लगता कि वह धरती को चपटी मानते थे. उन्‍होंने कुछ बातें सरकारी साजिश सिद्धांत (Governmental Conspiracy Theories) के तहत बोली थीं. इससे भ्रमित होने की जरूरत नहीं है कि वह धरती को चपटी मानते थे. ऐसा बिलकुल नहीं था.'

क्षतिग्रस्‍त रॉकेट से निकलने के लिए इस्‍तेमाल पैराशूट भी फट गया



माइकल के खुद बनाए रॉकेट (Homemade Rocket) में लॉन्चिंग की तस्‍वीरें सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हो रही हैं. रेगिस्‍तानी इलाके (Desert Area) से लॉन्चिंग के दौरान हुई इस दुर्घटना के बड़ी संख्‍या में लोग गवाह बने. लॉन्‍च के बाद माइकल ने क्षतिग्रस्‍त रॉकेट से निकलने के लिए पैराशूट का इस्‍तेमाल किया, लेकिन वह बुरी तरह फट गया था. साइंस चैनल का कहना है कि यह उड़ान माइकल का सपना था. साइंस चैनल (Science Channel) इस लॉन्चिंग के हर पल को कवर करने के लिए बैरस्‍टॉ में मौजूद था.



माइकल ने लॉन्चिंग से पहले कहा, कई लोगों को मिलेगी प्रेरणा
साइंस चैनल ने माइकल की इस लॉन्चिंग को 'होममेड एस्‍ट्रोनॉट्स' (Homemade Astronauts) नाम की नई सीरीज के तहत कवर किया. लाल और काले रंग के स्‍पेस सूट (Space Suit) में माइकल ने डिस्‍कवरी चैनल पर रॉकेट के सामने खड़े होकर अपनी योजना की घोषणा की थी. साथ ही यह भी स्‍पष्‍ट किया था कि वह ऐसा क्‍यों करेंगे. उन्‍होंने कहा था, 'मैं लोगों को यह विश्‍वास दिलाना चाहता हूं कि आप सभी अपने जीवन में असाधारण काम कर सकते हैं. हो सकता है कि मेरी इस लॉन्चिंग से कुछ लोगों को प्रेरणा मिले.'

ये भी पढ़ें:

क्‍या भारत-अमेरिका समझौतों पर असर डाल सकते हैं इवांका ट्रंप और जैरेड कुशनर?

मोटेरा स्टेडियम में ट्रंप बोले- इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ एक साथ लड़ेंगे हम

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 24, 2020, 2:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading