ब्रिटेन से भारत वापस लाई जाएगी भगवान शिव की प्रतिमा, 22 साल पहले हुई थी चोरी

ब्रिटेन से भारत वापस लाई जाएगी भगवान शिव की प्रतिमा, 22 साल पहले हुई थी चोरी
फोटो सौ. (सोशल मीडिया)

भारत सरकार की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि विदेश मंत्रालय (Foreign Ministry) देश की कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ मिलकर पूरी तत्परता से चोरी और तस्करी की गईं भारत की प्राचीन वस्तुओं की जांच में जुटा रहता है और उन्हें भारत में वापस लाने का काम करता है.

  • Share this:
लंदन. राजस्थान के एक मंदिर से चोरी हुई और तस्करी से ब्रिटेन (Britain) पहुंची भगवान शिव (Lord Shiva) की नौवीं शताब्दी की एक दुर्लभ पाषाण प्रतिमा को बृहस्पतिवार को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) को सौंप दिया जाएगा. नटराज/नटेशा की पाषाण की यह मूर्ति लगभग चार फुट ऊंची है और भगवान शिव इसमें प्रतिहार रूप में दिखाई देते हैं. मूर्ति की चोरी राजस्थान के बरोली में घाटेश्वर मंदिर से 1998 के फरवरी महीने में हुई थी. इसके तस्करी के जरिए ब्रिटेन पहुंचने की जानकारी 2003 में सामने आई थी.

ब्रिटेन में भारत के उच्चायोग ने कहा कि लंदन में यह जानकारी मिलने के बाद इसकी सूचना ब्रिटेन के अधिकारियों को दी गई और उनकी मदद से लंदन में इस मूर्ति को रखने वाले निजी संग्रहकर्ता के समक्ष यह मुद्दा उठाया गया. उसने खुद की इच्छा से 2005 में ब्रिटेन में स्थित भारतीय उच्चायोग को यह मूर्ति लौटा दी थी. इसके बाद अगस्त 2017 में एएसआई की एक टीम उच्चायोग गई और वहां इस मूर्ति का निरीक्षण किया. विशेषज्ञों ने इसकी पुष्टि कर दी कि यह घाटेश्वर मंदिर से चुराई गई प्रतिमा ही है. यह प्रतिमा अब तक लंदन स्थित उच्चायोग की इमारत के मुख्य प्रवेश कक्ष में लगी थी.

ये भी पढ़ें: ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन का 'मेड इन इंडिया' प्यार, Hero पर हुए सवार



प्राचीन वस्तुओं की जांच में जुटा रहता है विदेश मंत्रालय
भारत सरकार की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि विदेश मंत्रालय देश की कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ मिलकर पूरी तत्परता से चोरी और तस्करी की गईं भारत की प्राचीन वस्तुओं की जांच में जुटा रहता है और उन्हें भारत में वापस लाने का काम करता है. इसके परिणामस्वरूप भारत की कई प्राचीन कलाकृतियों और मूर्तियों को अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस और जर्मनी से देश में वापस लाया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading