लाइव टीवी

चीन को विभाजित करने की किसी भी कोशिश को कुचल दिया जाएगा: शी जिनपिंग

भाषा
Updated: October 14, 2019, 12:04 AM IST
चीन को विभाजित करने की किसी भी कोशिश को कुचल दिया जाएगा: शी जिनपिंग
चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग ने नेपाल के शीर्ष नेतृत्व के साथ व्यापक वार्ता की.

चीन (China) अगले दो साल के दौरान नेपाल (Nepal) को उसके विकास कार्यक्रमों तथा उसे जमीनी संपर्क मार्ग से जुड़ा देश बनाने के लिये 56 अरब नेपाली रुपये की सहायता देगा. चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) ने शनिवार को इसकी घोषणा की.

  • Share this:
काठमांडू. चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग (Xi Jinping) ने रविवार को चेतावनी दी कि चीन (China) को विभाजित करने की जो कोई कोशिश करेगा, उसे ‘कुचल दिया जाएगा’. उन्होंने यहां नेपाल (Nepal) के शीर्ष नेतृत्व के साथ व्यापक वार्ता की और दोनों देशों ने अपने द्विपक्षीय संबंधों को सहयोग की रणनीतिक साझेदारी तक पहुंचाया तथा एक ‘ट्रांस हिमालयन’ रेलवे लाइन बिछाने की योजना सहित कई समझौतों पर हस्ताक्षर किये.

शी ने शनिवार को नेपाल की राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी (Vidya Devi Bhandari) के साथ अपनी बैठक के दौरान नेपाल के विकास कार्यक्रमों के लिये 56 अरब नेपाली रुपये की मदद की घोषणा की. पिछले 23 बरसों में नेपाल की यात्रा करने वाले शी पहले चीनी राष्ट्रपति हैं.

संपर्क बढ़ाने के लिए बनेंगी चौकियां
चीनी राष्ट्रपति ने काठमांडू (Kathmandu) और तातोपानी ट्रांजिट बिंदु को जोड़ने वाले अरनिको हाईवे का उन्नयन करने का संकल्प लिया. इसे नेपाल में आये 2015 के विनाशकारी भूकंप के बाद बंद कर दिया गया था. उन्होंने संपर्क बढ़ाने के लिये और अधिक सीमा चौकियां खोलने का भी संकल्प लिया. उन्होंने कहा कि ट्रांस हिमालयन रेलवे के लिए एक व्यवहार्यता अध्ययन जल्द शुरू किया जाएगा और चीन केरूंग-काठमांडू सुरंग मार्ग के निर्माण में भी मदद करेगा.

चीन की आधिकारिक समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के मुताबिक नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) के साथ रविवार को अपनी बैठक के दौरान शी ने कहा, ‘‘जो कोई भी चीन को विभाजित करने की कोशिश करेगा उसे कुचल दिया जाएगा.’’ नेपाल में तिब्बती आध्यात्मिक गुरु समर्थकों पर नकेल कसने के लिये काठमांडू पर बीजिंग के दबाव बनाये जाने के बीच शी की ये टिप्पणियां आई हैं.

दोनों देश सच्चे मित्र
तिब्बत के साथ नेपाल एक लंबी सीमा साझा करता है और करीब 20,000 निर्वासित तिब्बती (Tibet) इस देश में रहते हैं. बीजिंग (Beijing) भारत में स्वनिर्वासन में रह रहे दलाई लामा (Dalai Lama) को चीन को विभाजित करने की कोशिश करने के वाले एक अलगाववादी के तौर पर देखता है. ओली ने कहा कि नेपाल चीन को उसकी संप्रभुता एवं क्षेत्रीय अखंडता की हिफाजत करने में पूरा समर्थन करता है तथा एक चीन की नीति के प्रति दृढ़ता से खड़ा है. उन्होंने कहा कि दोनों देश सच्चे मित्र एवं साझेदार हैं.
Loading...

एक संयुक्त बयान में दोनों देशों ने कहा कि उन्होंने अपने द्विपक्षीय संबंधों को सहयोग की रणनीतिक साझेदारी पर पहुंचाने का फैसला लिया है. बयान में कहा गया है कि नेपाल और चीन ने बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (बीआरआई) को व्यापक रूप से सभी क्षेत्रों में परस्पर फायदेमंद सहयोग को मजबूत करने के एक अवसर के तौर पर देखते हैं.

शी ने नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के सह अध्यक्ष पुष्प कमल दहल प्रचंड के साथ भी रविवार को वार्ता की. शी ने उन्हें चीनियों का एक अच्छा और पुराना मित्र बताया.

ये भी पढ़ें-
चीन दो साल में नेपाल को 56 अरब नेपाली रुपये की सहायता देगा

जापान को तबाह कर रहा हेजिबीस क्या धरती का सबसे बड़ा तूफान है?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 11:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...