अरब ने कहा-लेबनान की हर हाल में करेंगे मदद, तुर्की बेरूत पोर्ट के पुर्ननिर्माण के लिए तैयार

अरब ने कहा-लेबनान की हर हाल में करेंगे मदद, तुर्की बेरूत पोर्ट के पुर्ननिर्माण के लिए तैयार
लेबनान विस्फोट में हुई तबाही के बाद दुनिया के कई मुल्क मदद के लिए सामने आ रहे हैं.

अरब लीग के प्रमुख अहमद अबाउल घेट (Ahmed Aboul Gheit) ने शनिवार को कहा कि वह लेबनान में पिछले हफ्ते हुए प्रलंयकारी विस्फोट (explosion) से हुए नुकसान की भरपाई के लिए अरब देशों को एकजुट करेगा और उनकी मदद करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 9, 2020, 9:20 AM IST
  • Share this:
बेरूत. अरब लीग के प्रमुख अहमद अबाउल घेट (Arab League Chief Ahmed Aboul Gheit) ने शनिवार को कहा कि वह लेबनान में पिछले हफ्ते हुए प्रलंयकारी विस्फोट (catastrophic explosion) से हुए नुकसान की भरपाई के लिए अरब देशों को एकजुट करेगा और उनकी मदद करेगा. इस विस्फोट में लेबनान की राजधानी बेरूत पूरी तरह से छत-विछत (Beirut destroyed) हो गया है.

हम हर हाल में लेबनान की मदद करेंगे- अरब लीग प्रमुख

लेबनान के राष्ट्रपति माइकेल आउन से मीटिंग के बाद रिपोर्टरों से बातचीत करते हुए अरब लीग प्रमुख अहमद ने कहा कि वह कायरो स्थित अरब स्टेट विस्फोट की पड़ताल में मदद करेगा. उन्होंने कहा कि हम हर हाल में लेबनान की मदद करेंगे. उन्होंने कहा कि वे लेबनान की सहायता पहुंचाने के लिए फ्रांस द्वारा आयोजित होने वाले कॉन्फ्रेंस में रविवार को भाग लेंगे.



तुर्की के उपराष्ट्रपति ने भी मदद के लिए बढ़ाया हाथ
लेबनान के राष्ट्रपति माइकेल आउन से मुलाकात के बाद तुर्की के उप-राष्ट्रपति फुआट ओकैटी ने कहा कि उनका देश लेबनान के बंदरगाह के पुर्ननिर्माण में मदद करेंगे. तुर्की का मर्सिन बंदरगाह लेबनान की मदद के लिए तैयार है. उन्होंने कहा कि जब तक बेरूत बंदरगाह का पुर्ननिर्माण तबतक तुर्की उनकी वेयरहाउसिंग सर्विस और कस्टम क्लियरेंस के लिए तैयार रहेगा. उन्होंने कहा कि हमने यह कहा है कि माल को छोटे जहाजों में ट्रांसर्पो किया जा सकता है. दूसरे साधनों के जरिये भी सामान मर्सिन से लेबनान तक पहुंचाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें: श्रीलंका: महिंदा राजपक्षे को रिकॉर्ड वोट मिले, आज चौथी बार लेंगे पीएम पद की शपथ

सऊदी के प्रिंस सलमान पर हत्या की साजिश का आरोप, अमेरिका में केस दर्ज

रूस बाइडेन को और चीन ट्रंप को चुनाव जीतते नहीं देखना चाहता: US खुफिया अधिकारी

बेरूत विस्फोट में 154 लोग मारे गए हैं. इस घटना में 5,000 हजार से ज्यादा लोग जख्मी हुए और करीब तीन लाख लोग बेघर हो गए. बंदरगाह पर रखे गए करीब 2,750 टन अमोनियम नाइट्रेट के चलते भयंकर विस्फोट हो गया. इस धमाके में उर्वरक और विस्फोटक इस्तेमाल किया गया.

संयुक्त राष्ट्र ने की इस मामले की स्वतंत्र जांच की अपील की

संयुक्त राष्ट्र ने इस मामले की स्वतंत्र जांच कराने की अपील की है. संयुक्त राष्ट्र मानाधिकार उच्चायुक्त के प्रवक्ता रूपर्ट कॉलविले ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से लेबनान की मदद के लिये आगे आने का अनुरोध किया है. उन्होंने कहा कि लेबनान सामाजिक-आर्थिक संकट, कोविड-19 और अमोनियम नाइट्रेट धमाके समेत तीन त्रासदियों का सामना कर रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज