Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    अर्जेंटीना: Stretch Marks का ट्रीटमेंट करा रही थी महिला, दिल फटने से हुई मौत

    अर्जेंटीना में स्ट्रेच मार्क्स का ट्रीटमेंट कराने के दोरान दिल फटने से महिला की मौत हो गई है.
    अर्जेंटीना में स्ट्रेच मार्क्स का ट्रीटमेंट कराने के दोरान दिल फटने से महिला की मौत हो गई है.

    अर्जेंटीना के एक क्लिनिक में कार्बोक्सी थेरेपी (Carboxy Therapy) नाम का एक ट्रीटमेंट करवाते हुए उसकी मौत हो गई. क्लॉडिया के भाई क्लाउडियो गैस्राल्डी ने बताया कि बर्टोल्डी मृत्यु से पहले पूरी तरह से स्वस्थ थी.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 6, 2020, 9:22 PM IST
    • Share this:
    ब्यूनस आयर्स. स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks) दूर करने के ट्रीटमेंट के दौरान एक स्वस्थ महिला का दिल फट (Heart Explodes) गया और उसकी मौत हो गई. 45 साल की क्लॉडिया बर्टोलडी तीन बच्चों की माँ थी. अर्जेंटीना के कॉनकॉर्डिया इलाके के एक क्लिनिक में कार्बोक्सी थेरेपी (Carboxy Therapy) नाम का एक ट्रीटमेंट करवाते हुए उसकी मौत हो गई. क्लॉडिया के भाई क्लाउडियो गैस्राल्डी ने बताया कि बर्टोल्डी मृत्यु से पहले पूरी तरह से स्वस्थ थी.उनके अनुसार क्लीनिक के कर्मचारियों ने उनकी बहन क्लॉडिया बर्टोलडी की नसों में इंजेक्शन लगाया गया जो उसके दिल तक पहुँच गया जिससे दिल में एक तरह का विस्फोट हुआ और दिल ने काम करना बंद कर दिया. क्लॉडिया की तत्काल ही मौत हो गई. क्लीनिक के कर्मचारियों की घातक गलती के कारण ही क्लॉडिया की मौत हुई.

    क्लॉडिया के भाई ने बताया कि उन्हें यह सूचना देने वाला अधिकारी वही था जिसने क्लॉडिया का पोस्टमार्टम किया था. हालंकि मौत का कारण बताती पोस्टमार्टम की इस रिपोर्ट को अभी तक प्रॉसीक्यूटर के पास नहीं भेजा गया है और इसी वजह से मामला संदिग्ध होता जा रहा है.

    कार्बोक्सी थेरेपी के दौरान हुई क्लॉडिया की मौत



    इस थेरेपी की शुरुआत 1930 के दशक में एक फ्रेंच स्पा से हुई थी. इस ट्रीटमेंट में कार्बन डाइऑक्साइड को शरीर में इंजेक्ट किया जाता है. इस थेरेपी का प्रयोग चेहरे, नितंबों, पेट और पैरों पर भी किया जाता है. शरीर पर सेल्युलाईट और खिंचाव के निशानों को कम करने के लिए और शरीर के हिस्सों में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने के लिए यह ट्रीटमेंट करवाया जाता है. यह ट्रीटमेंट लोकप्रिय सितारों के बीच बहुत प्रसिद्द है.
    पुलिस में शिकायत दर्ज

    इसी बीच परिवार ने क्लीनिक के इस अपराध के लिए उसके खिलाफ एक आपराधिक शिकायत दर्ज की है. क्लॉडिया के भाई ने मीडिया को बताया कि क्लिनिक के कर्मचारियों को इस ट्रीटमेंट को करने के लिए किसी तरह की कोई ट्रेनिंग आदि नहीं दी गई थी. यह ट्रीटमेंट किसी विशेषज्ञ द्वारा किया जाना चाहिए था जो इस मामले में नहीं हुआ. जांच के लिए क्लिनिक में लगे सीसीटीवी कैमरे, कंप्यूटर और उपकरणों के डेटा को जब्त कर लिया गया है.

    ये भी पढ़ें: UK: 103 साल के बुजुर्ग ने 14,000 फीट ऊंचाई से लगाई छलांग, Video देख रह जाएंगे दंग 

    ब्लैकहोल की खोज के लिए इन तीनों वैज्ञानिकों को मिला नॉबेल पुरस्कार 

    पाकिस्तान में रिकॉर्डतोड़ महंगाई, इमरान को सत्ता से बेदखल करने सड़कों पर उतरेगी जनता

    क्लॉडिया की मौत के बाद उनके परिवार पर दुःखका पहाड़ टूट पड़ा है. क्लॉडिया के तीन बच्चे थे. अक्षम लोगों की गलती ने एक परिवार को नष्ट कर दिया.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज