तकनीकी खामी के चलते रूसी अंतरिक्षयान की हुई इमरजेंसी लैंडिंग

रूस के बूस्टर रॉकेट सोयाज़ स्पेसक्राफ्ट की इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन कज़ाख़िस्तान में लैंडिंग कराई गई है.

News18Hindi
Updated: October 11, 2018, 4:27 PM IST
तकनीकी खामी के चलते रूसी अंतरिक्षयान की हुई इमरजेंसी लैंडिंग
(सांकेतिक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: October 11, 2018, 4:27 PM IST
रूस के बूस्टर रॉकेट सोयुज स्पेसक्राफ्ट की इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन कज़ाख़िस्तान में लैंडिंग कराई गई है. स्पेसक्राफ्ट को कुछ तकनीकी दिक्कतों के चलते लैंड कराना पड़ा. इस एयरक्राफ्ट में यूएस और रशिया के एस्ट्रोनट सवार थे.  नासा के मुताबिक विमान एयरक्राफ्ट के बूस्टर में तकनीकी खामी थी जिसके बाद मिशन को रोकना पड़ा. चालक दल के दोनों सदस्य सुरक्षित हैं. रूसी समाचार एजेंसियों ने यह खबर दी. रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रॉस्कोस्मोस ने ट्वीट किया, ‘आपात बचाव प्रणाली ने काम किया, यान कजाखस्तान में उतरने में सफल रहा.’

ये भी पढ़ें- कितना ताकतवर रूस का S-400 एयर डिफेंस सिस्टम?

इंटरफैक्स समाचार एजेंसी की खबर के मुताबिक नासा के सदस्य निक हेग और रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के एलेक्सी ओवचिनिन ने कज़ाख़िस्तान में आपात स्थिति में उतरे. उन्हें कोई चोट नहीं आई है. ओवचिनिन की यह दूसरी अंतरिक्ष यात्रा थी.

ह्यूस्टन स्थित अभियान के नियंत्रण केंद्र से नासा के सीधा प्रसारण पर एक ‘वॉयस ओवर’ में कहा गया है, ‘प्रथम चरण की प्रक्रिया (सेपरेशन) के कुछ सेकेंड के बाद प्रक्षेपण के बूस्टर (रॉकेट) में समस्या आ गई और हम अब इस बात की पुष्टि कर सकते हैं कि चालक दल के सदस्यों ने ‘बैलिस्टिक डीसेंट मोड’ में जाना शुरू कर दिया है.’

ये भी पढ़ेंः अब आपके 'पड़ोसी' के बारे में भी बताएगा गूगल, लॉन्च किया ऐप

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने ट्वीट कर कहा कि तलाश एवं बचाव टीमें रवाना हो चुकी हैं और वे सोयुज अंतरिक्षयान के पृथ्वी पर उतरने के स्थान की ओर बढ़ रही हैं. इस बीच, क्रेमलिन ने चालक दल के दोनों सदस्यों के सुरक्षित होने की पुष्टि की है. रूसी राष्ट्रपति कार्यालय के प्रवक्ता दमित्री पेस्कोव ने पत्रकारों को बताया, ‘भगवान का शुक्र है कि दोनों अंतरिक्ष यात्री जीवित हैं.’

(भाषा के इनपुट के साथ)

 

 

और भी देखें

Updated: October 11, 2018 06:14 PM ISTचीन सरकार ने लगाई हलाल मांस पर पाबंदी, जानें क्या है वजह
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर