होम /न्यूज /दुनिया /Clashes In Somaliland: सोमालिया के कब्जे वाले क्षेत्रों में झड़प, 20 की मौत और दर्जनों लोग घायल

Clashes In Somaliland: सोमालिया के कब्जे वाले क्षेत्रों में झड़प, 20 की मौत और दर्जनों लोग घायल

सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच कई दिनों से सोमालिया में संघर्ष हो रहा है. (सांकेतिक फोटो/रॉयटर्स)

सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच कई दिनों से सोमालिया में संघर्ष हो रहा है. (सांकेतिक फोटो/रॉयटर्स)

Clashes In Somaliland: लासकानूद में एक अस्पताल के डॉक्टर मोहम्मद फराह ने बताया कि कम से कम 20 लोग मारे गए और दर्जनों घा ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

मालिया के विवादित क्षेत्रों में कई दिनों से सरकार विरोधी प्रदर्शन चल रहा है
सोमालिलैंड में करीब 20 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हैं

बोसासो: सोमालिया के विवादित क्षेत्रों में कई दिनों से चल रहे सरकार विरोधी प्रदर्शन में 20 लोग मारे गए हैं और और दर्जनों घायल हो गए. दरअसल, प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच कई दिनों से संघर्ष चल रहा था जिसमें सुरक्षा बलों ने अपनी क्रूर कार्यवाई की. यह जानकारी क्षेत्र में स्थित एक अस्पताल के डॉक्टर ने दी है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, सोमालिलैंड और पड़ोसी पंटलैंड के बीच विवादित शहर लासकानूद में एक हफ्ते से अधिक समय से पुलिस और सेना प्रदर्शनकारियों से जूझ रही है. लासकानूद शहर  सोमालिया के अर्ध-स्वायत्त क्षेत्रों में से एक है. लासकानूद में एक सार्वजनिक सुविधा वाले अस्पताल के डॉक्टर मोहम्मद फराह ने बताया कि कम से कम 20 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हो गए. उन्होंने कहा कि, ‘मैंने पीड़ितों के शवों को अस्पताल में लाते हुए देखा.’

प्रदर्शनकारियों की क्या मांग है?
प्रदर्शनकारी मांग कर रहे हैं कि सोमालीलैंड कस्बे का नियंत्रण पंटलैंड को दे दिया जाए और यह भी आरोप लगाया कि सुरक्षा बल पर कस्बे में असुरक्षा को समाप्त करने में विफल रही है. प्रदर्शनकारियों के प्रवक्ता अदान जामाक ओगले ने रॉयटर्स को बताया, “सोमालीलैंड ने लासकानूद पर जबरदस्ती कब्जा कर लिया और इसे सुरक्षित करने में विफल रहे हैं, इसलिए हम मांग कर रहे हैं कि वे चले जाएं. हम नागरिकों के निरंतर हत्या को बर्दाश्त नहीं कर सकते.”

सोमालियाः होटल में घुसी सेना, 6 आतंकवादियों को किया ढेर, 60 लोगों को छुड़ाया


सोमालिया 3 दशकों के गृह युद्ध से जूझ रहा है
सोमालिलैंड 1991 में सोमालिया से अलग हो गया था. लेकिन उसने अपनी स्वतंत्रता के लिए व्यापक अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त नहीं की है. यह क्षेत्र ज्यादातर शांतिपूर्ण रहा है जबकि सोमालिया तीन दशकों के गृह युद्ध से जूझ रहा है, वहीं पंटलैंड के उपाध्यक्ष अहमद एल्मी उस्मान करश ने सुरक्षा बलों पर हिंसा का आरोप लगाया.

Tags: People protest, Somalia, World news in hindi

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें