Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    पाकिस्तान के मदरसे में भीषण धमाका, 7 की मौत 70 घायल; अधिकतर हैं बच्चे

    पाकिस्तान के पेशावर में ब्लास्ट
    पाकिस्तान के पेशावर में ब्लास्ट

    Peshawar Pakistan Blast News: पाकिस्तान के पेशावर में मदरसे में हुए एक भीषण विस्फोट में 7 लोगों की मौत हो गयी है जबकि 70 से ज्यादा घायल बताए जा रहे हैं. घायलों में से ज्यादातर बच्चे हैं.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 27, 2020, 12:44 PM IST
    • Share this:
    इस्लामाबाद. पाकिस्तान के पेशावर स्थित एक मदरसे में हुए भीषण विस्फोट में 7 लोग मारे गए हैं जबकि 70 से ज्यादा घायल बताए जा रहे हैं. ये मदरसा पेशावर की दिर कॉलोनी (Peshawar's Dir Colony) के पास स्थित बताया जा रहा है. धमाके की वजह क्या है इसकी जांच अभी की जा रही है, शुरूआती जांच में IED ब्लास्ट होने का शक जताया गया है. घायलों में 19 बच्चे बताए जा रहे हैं.







    डॉन से बातचीत में पेशावर के सीनियर सुपरिटेंडेंट ऑफ़ पुलिस (SSP) मंसूर अमन ने बताया कि धमाके की वजह नहीं पता लग पायी है लेकिन शुरुआती जांच में इसके गैस एक्स्प्लोशन होने के सबूत नहीं मिले हैं. घायलों को लेडी रीडिंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अस्पताल के प्रवक्ता मोहम्मद आसिम ने बताया कि 70 से ज्यादा घायल लाए गए हैं जिनमें बच्चे अधिक हैं. कुछ बच्चों की हालत काफी गंभीर भी है.


    मंसूर के मुताबिक शुरुआती जांच में ये एक IED ब्लास्ट जैसा नज़र आ रहा है जिसे करीब 5 किलो एक्सप्लोसिव के इस्तेमाल से अंजाम दिया गया है. फिलहाल पुलिस पूरे इलाके और मदरसे में आए लोगों से पूछताछ कर रही है. पुलिस ने बताया कि जब धमाका हुआ तब मदरसे में बच्चों की कुरान की कक्षा चल रही थी. कोई अनजान व्यक्ति मदरसे में एक बैग रख गया था. घायलों में मदरसे के कई टीचर भी शामिल हैं.

    पेशावर के स्कूल में हुआ था हमला
    पाकिस्तान के पेशावर में 16 दिसंबर 2014 की सुबह करीब 10:30 बजे एक आर्मी स्कूल पर बंदूकधारी आतंकियों ने हमला किया था. इसमें 132 बच्चों को मार दिया गया था. सात तालिबानी आतंकी स्कूल के पिछले दरवाजे से घुसे थे. इन आतंकियों ने मासूमों पर उन्होंने अंधाधुंध गोलियां बरसाईं थीं. इसके बाद आतंकी एक-एक क्लासरूम में घुसकर फायरिंग करने लगे.

    बच्चों के सामने ही आतंकियों ने स्कूल की प्रिंसिपल ताहिरा काजी को भी गोलियों से भून दिया था. आतंकियों ने कुछ बच्चों को लाइन में खड़ा कर गोलियों से भूना, तो कुछ छिपे बच्चों पर तब तक गोलियां बरसाईं, जब तक उनके शरीर के टुकड़े बिखर नहीं गए. इस कत्लेआम के लगभग 40 मिनट बाद पाक आर्मी ने मोर्चा संभाला. लगभग छह घंटे चले ऑपरेशन में आर्मी ने सातों आतंकियों को मार गिराया था.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज